राज्य में खेल और खिलाड़ी की बेहतरी के लिए खेल मंत्री रेखा आर्य की बड़ी घोषणा

राज्य में खेल और खिलाड़ी की बेहतरी के लिए खेल मंत्री रेखा आर्य की बड़ी घोषणा
Spread the love

खेल छात्रवृत्ति का शासनादेश जारीः रेखा आर्य

तीर्थ चेतना न्यूज

देहरादून। उत्तराखंड में खेल और खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए जल्द ही स्पोटर्स डेवलपमेंट फंड बनेगा। इससे जुड़ी संभावनाओं को को ध्यान में रखते हुए तैयारियां शुरू कर दी गई हैं।

ये कहना है प्रदेश की खेल मंत्री श्रीमती रेखा आर्य का। खेल मंत्री मंगलवार को यमुना कॉलोनी स्थित शासकीय आवास पर अधिकारियों के साथ समीक्षा कर रही थी। समीक्षा बैठक में माननीया मंत्री श्रीमती रेखा आर्या ने पूर्व में खेल विभाग में किये गए कार्यो की प्रगति रिपोर्ट के बारे में जानकारी सम्बंधित अधिकारियों से ली।

कहा कि माननीय मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी की पूर्व में खेल विभाग की जो भी घोषणाएं हैं जिनमे खेल मैदान भी शामिल हैं वो कार्य कहाँ तक पहुंचे हैं,साथ ही ऐसे खेल के मैदान जिनमे जमीन सम्बंधी मामलों में तकनीकी पेच देखने को मिल रहे हैं इसको लेकर विभाग को निर्देशित कर दिया गया है। साथ इस संबंध में संबंधित जनप्रतिनिधियों को सूचना देने के निर्देश अधिकारियों को दिए गए हैं।

उन्होंने कहा कि खेल छात्रवृत्ति के शासनादेश जारी होना राज्य में खेल और खिलाड़ियों की बेहतरी के लिए बड़ा कदम है। इससे राज्य के खिलाड़ियों को अपने खेल को निखारने का मौका मिलेगा। कहा कि सीएम की उदीयमान खिलाड़ी उन्नयन योजना के अंतर्गत राज्य के 08 से 14 वर्ष तक के उदीयमान खिलाड़ियों को प्रति जनपद 150-150 बालक-बालिकाओं को प्रतिमाह 1500 रुपये की खेल छात्रवर्ती दी जाएगी।

इस पहल से प्रदेश के खिलाड़ियों का एक और जहाँ खेल कौशल विकसित होगा तो वहीं उन्हें खेलों से जुड़े रहने,भविष्य के लिए खिलाड़ी तैयार करने में विभाग को मदद मिलेगी। बताया कि 29 अगस्त को खेल दिवस के मौके पर खेल छात्रवर्ती योजना का विधिवत शुभारंभ मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी करेंगे।

उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि इसको लेकर कार्ययोजना तैयार कर लें। खेल पॉलिसी के अंतर्गत जिन-जिन विषयों को लेकर शासनादेश जारी होने हैं, उन पर समय से होमवर्क पूरा कर लिया जाए। वित्त विभाग में लंबित शासनदेशों पर खेल सचिव वित्त सचिव से वार्ता करेंगे।

खेल मंत्री श्रीमती रेखा आर्य ने खेल आरक्षण दिए जाने को लेकर बताया कि राज्य के खिलाड़ियों को चार प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण दिए जाने की व्यवस्था थी। फिलहाल ये मामला न्यायालय में चल रहा है। ऐसे में क्या व्यवस्था बन सकती है इस पर गौर किया जा रहा है।

’खेल मंत्री ने केरल,उड़ीसा व हरियाणा राज्यों के स्पोर्ट्स डेवलपमेंट फण्ड का अध्ययन करने के दिये निर्देश अधिकारियों को दिए। कहा कि प्रदेश में स्पोर्ट्स डेवलपमेंट फण्ड बनाया जाएगा ताकि खेल विभाग वित्तीय रूप से सशक्त बन सके। मंत्री महोदया ने बताया कि केरल,हरियाणा और उड़ीसा राज्यो में यह व्यवस्था लागू है।

’खेल विभाग की वेबसाइट अपडेट नही होने पर नाराज हुईं खेल मंत्री’
खेल मंत्री श्रीमती रेखा आर्या ने खेल विभाग की वेबसाइट अपडेट नही होने को लेकर अधिकारियों पर नाराजगी व्यक्त की।

मंत्री ने कहा कि उनके द्वारा पूर्व की बैठक में भी वेबसाइट को अपडेट करने के निर्देश दिए गए थे लेकिन अधिकारियों की तरफ से इस और किसी भी प्रकार का ध्यान नही दिया। कहा कि जल्द से जल्द खेल विभाग की वेबसाइट को पूरी तरह से अपडेट करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।

कहा कि वेबसाइट अपडेट होने से इसमें विभाग की सम्पूर्ण जानकारी कोई भी व्यक्ति आसानी से हासिल कर सकता है जिससे उसे खेल विभाग के बारे में हर एक जानकारी व विभाग की गतिविधि प्राप्त हो सकेगी।

बैठक में खेल एवं युवा कल्याण विभाग के सचिव अभिनव कुमार, निदेशक खेल एवं युवा कल्याण डॉ. जीएस रावत,संयुक्त निदेशक खेल एसके सारकी ,उपनिदेशक खेल मनोज कुमार शर्मा, सहायक निदेशक खेल एसके डोभाल,संयुक्त निदेशक युवा कल्याण अजय कुमार अग्रवाल ,उपनिदेशक युवा कल्याण शक्ति सिंह मोजूद रहे।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.