रसायन विज्ञान विभागः बेहतरी के रिएक्शन को पूरी तैयारी

रसायन विज्ञान विभागः बेहतरी के रिएक्शन को पूरी तैयारी
Spread the love

श्रीदेव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय का ऋषिकेश परिसर आकार ले रहा है। विश्वविद्यालय की बेहतरी के लिए टीम यूनिवर्सिटी पूरी तरह से तैयार है। विभिन्न विभागों में नियुक्त प्राध्यापकों में कुछ खास करने का जज्बा साफ दिखता है।
हिन्दी न्यूज पोर्टल www.tirthchetna.com विश्वविद्यालय की बेहतरी को टीम यूनिवर्सिटी के प्रयासों में साथ है। पोर्टल विभिन्न विभागों की तैयारी, चुनौती और लक्ष्य को लेकर प्राध्यापकों से बातचीत का अभियान चला रहा है।

ऋषिकेश। रसायन बड़ा कारसाज है। लाइफ को लाइव बनाने में रसायन का ही रोल है। ऐसे में रसायन विज्ञान के महत्व को समझा जा सकता है। श्रीदेव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय की टीम केमिस्ट्री बेहतरी के रिएक्शन को तैयार है।

मंगलवार को हिन्दी न्यूज www.tirthchetna.com पोर्टल श्रीदेव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय के बड़े विभागों में से एक रसायन विज्ञान विभाग में था। विभागाध्यक्ष प्रो. एसपी सती समेत यहां सात प्राध्यापक तैनात हैं। हर किसी के चेहरे पर कुछ हटकर करने का जज्बा साफ देखा गया। हां, विभाग में उपलब्ध संसाधनों की स्थिति की चिंता भी झलक रही थी। टीम केमिस्ट्री संसाधनों के टोटे से उभरने की जुगत लगा रही है।

बातचीत में विभागाध्यक्ष प्रो. एसपी सती, प्रो. नीता जोशी, डा. हितेंद्र सिंह, डा. विभा कुमार, डा. राकेश जोशी विभाग की तैयारियों के बारे में खुलकर बताते हैं। बताया कि अभी पीजी स्तर पर कार्बानिक रसायन ही चल रहा है। अगले शिक्षा सत्र अकार्बनिक रयायन में भी पीजी शुरू कराया जाएगा। इसके बाद भौतिक रसायन।

यही नहीं विभाग ने विश्वविद्यालय की मंशा के मुताबिक हर्बल और पर्यावरण पर सर्टिफिकेट और डिप्लोमा कोर्स डिजाइन कर प्रस्तुत कर दिए हैं। विश्वविद्यालय को आगे बढ़ाने में रसायन विज्ञान विभाग की तैयारियां पुख्ता हैं।

विभागाध्यक्ष प्रो. सती के पास शिक्षण, शोध और प्रशासनिक कुशलता का अच्छा अनुभव है। उनके नेतृत्व में प्राध्यापकों ने यूजी और पीजी के छात्रों रसायन विज्ञान से संबंधित देश की नामी संस्थाओं से लिंक करने की तैयारियां शुरू कर दी है। ताकि छात्र क्लास, किताब और शिक्षा के परंपरागत तौर तरीकों से हटकर भी सोचे, समझे और आगे बढ़े।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.