रोशनी पोखरियाल की पुस्तक पृथ्वी सगंधा का विमोचन

रोशनी पोखरियाल की पुस्तक पृथ्वी सगंधा का विमोचन
Spread the love

नंदप्रयाग। कवयित्री रोशनी पोखरियाल के प्रथम काव्य संग्रह पृथ्वी सगंधा का भव्य कार्यक्रम विमोचन किया गया है। इस मौके पर काव्य संग्रह की वरिष्ठ साहित्यकारों ने सराहना की।

रविवार को कलम क्रांति मंच एवं हिंदी साहित्य भारती चमोली के बैनर तले नगर पंचायत नंदप्रयाग के सभागार में आयोजित कार्यक्रम में कवयित्री रोशनी पोखरियाल की प्रथम काव्य संग्रह पृथ्वी सगंधा का विमोचन किया गया।

पुस्तक का विमोचन करते हुए मुख्य अतिथि उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ साहित्यकार एवं छंदकार श्री अमरनाथ अग्रवाल ने कहा कि साहित्य सृजन करना मानव जीवन का सर्वश्रेष्ठ कर्म है और रोशनी पोखरियाल ने उस स्थिति को प्राप्त कर लिया है।

विशिष्ठ अतिथि प्रख्यात साहित्यकार एवं अंतरराष्ट्रीय हिंदी साहित्य भारती उत्तराखंड की प्रदेश अध्यक्ष डॉ कविता भट्ट शैलपुत्री ने कहा कि कष्ट दायक क्षणों में ही उत्कृष्ट साहित्य सृजित होता है और रोशनी पोखरियाल की पुस्तक पृथ्वी सगंधा उसका उत्तम उदाहरण है और महिला लेखकों द्वारा साहित्य सृजन करना नई उम्मीदों को पंख लगा रहा है।

हिंदी साहित्य भारती के जिला चमोली अध्यक्ष श्री भगत सिंह राणा ने पुस्तक की समीक्षा करते हुए कहा की इस दौर में छंदों में रचना कार्य करना श्रेष्ठ कार्य है एवं रोशनी पोखरियाल ने इसे कर के दिखाया है।

कार्यक्रम अध्यक्ष नगर पंचायत अध्यक्ष नंदप्रयाग डॉ हिमानी वैष्णव ने कहा कि गांव की बेटी, बहुओं द्वारा पुस्तकें लिखा जाना साहित्य जगत के लिए शुभ संकेत है।

कलम क्रांति मंच की संस्थापिका शशि देवली ने समस्त अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि कलम क्रांति मंच की एक और कवयित्री की पुस्तक का विमोचन होना साहित्य रूपी सागर में कलम क्रांति मंच का एक आंशिक योगदान है।

इस अवसर पर दीपक सती, ज्योति बिष्ट, नीलम डिमरी, संगीता बहुगुणा, रोशनी पोखरियाल, बृजेश रावत, प्रीत अग्रवाल, विनीता कविता भट्ट, सन्नो देवी, वंदना मैंदोली, प्रदीप मलासी, सुभाष सिंह आदि ने अपनी कविताओं का पाठ किया।

इस अवसर पर महेंद्र रावत, सुभाष भट्ट, राकेश देवली, विनोद तिवाड़ी, अशोक पोखरियाल, गौरव पोखरियाल माधुरी देवी आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन प्रो दर्शन सिंह नेगी ने किया।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.