भूमाफिया को बेनकाब करेगी गढ़वाली फिल्म भूमि

भूमाफिया को बेनकाब करेगी गढ़वाली फिल्म भूमि
Spread the love

ऋषिकेश। गढ़वाली फिल्म भूमि उत्तराखंड में सक्रिय भूमाफिया को बेनकाब करेगी। साथ ही इसके माध्यम से लोगों को सख्त भू कानून हेतु सिस्टम पर दबाव बनाने के लिए प्रेरित करेगी।

रविवार को ऋषिकेश प्रेस क्लब में निर्माता/निर्देशक कृष्ण बगोट ने प्रस्तावित गढ़वाली फिल्म भूमि के बारे मीडिया को जानकारी दी। बताया कि राज्य गठन के बाद उत्तराखंड खाला का घर बन गया है। मैदानी क्षेत्रों की भूमि का खेल करने के बाद अब सौदेबाजी राज्य के गांवों तक पहुंचने लगे हैं।

बगोट ने बताया कि हाइवे और अन्य सड़कों के आस-पास गाढ़ गधेरों से लेकर धार-खाल की भूमि में कैसे भूमाफिया काबिज हो रहे हैं। क्या-क्या प्रपंच रचकर गांव के सीधे लोगों को भूमिहीन बनाया जा रहा है। इसमें जिम्मेदार लोग कैसी भूमिका निभा रहे हैं। पंच प्रधान और चंट चकड़ैत थोड़े से लालच में कैसे मध्यस्थता का काम कर रहे हैं।

बगोट ने बताया कि ये चिंता की बात है और पर्वतीय समाज इस पर प्रभावी अंकुश चाहता है। लोगों की भावनाओं को गढ़वाल फिल्म भूमि के माध्यम से पर्दे पर उतारा जा रहा है। उन्होंने फिल्म के पात्रों से लेकर संगीत के बारे में जानकारी दी।

बताया कि लोगों से अपील की जाएगी कि वो फिल्म देखने थिएटर तक जाएं। इसके अलावा फिल्म को लेकर टीम स्वयं भी लोगों की बीच जाएगी। ताकि लोग समझ सकें कि आखिर उन्हें भूमिहीन करने की कैसे साजिश रची जा रही है। इस मौके पर चंद्रमोहन जदली, रेखा भंडारी, कुसुम जोशी आदि मौजूद थे।

 

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.