गवर्नमेंट पीजी कॉलेज डापपत्थर में साहित्य एवं कला ग्रुप का गठन

गवर्नमेंट पीजी कॉलेज डापपत्थर में साहित्य एवं कला ग्रुप का गठन
Spread the love

डाकपत्थर। गवर्नमेंट पीजी कॉलेज, डाकपत्थर में मुख्यमंत्री नवाचार योजना के तहत साहित्य एवं कला ग्रुप का गठन किया गया। डा. अरविंद अवस्थी ग्रुप के समन्वयक होंगे।

ग्ुरूवार को कॉलेज के प्रिंसिपल प्रो. जी आर सेमवाल की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री नवाचार योजना के अंतर्गत योजना की संयोजक डॉ राखी डिमरी साहित्य एवं कला ग्रुप के संरक्षक, प्रो आर एस गंगवार एवं समन्वयक डॉ अरविंद अवस्थी के नेतृत्व में साहित्य एवं कला ग्रुप का गठन किया गया।

डॉ अरविंद अवस्थी एवं ग्रुप सदस्यों में डॉक्टर राकेश मोहन नौटियाल, डॉ दीप्ति बगवाड़ी, डॉ नीलम ध्यानी, डॉ माधुरी रावत, डॉ अशोक कुमार, डॉ राजकुमारी भंडारी, डॉ आशाराम बिजलवान, डॉ अमित गुप्ता, डॉ पूजा पालीवाल एवं डॉ मनोरथ नौगाईं के सहयोग से साहित्य एवं कला ग्रुप के अंतर्गत कार्यकारिणी का सफल गठन किया गया।

इसमें अध्यक्ष पद पर आशीष बिष्ट बी ए तृतीय वर्ष, उपाध्यक्ष पद पर राज आर्यन बी ए तृतीय वर्ष, सांस्कृतिक सचिव पद पर मनीषा बी ए तृतीय वर्ष, सह सचिव पद पर समीक्षा चौहान बी.ए प्रथम वर्ष चुने गए।

मुस्कान, लक्ष्मी, निशांत एवं मीनाक्षी को कार्यकारिणी में बतौर सदस्य शामिल गया है। इस मौके पर प्रिंसिपल प्रो. सेमवाल ने छात्र छात्राओं को साहित्य एवं कला परिषद में अपनी प्रतिभा दिखाने एवं प्रतियोगिताओं के माध्यम से प्रतिभाग करने के प्रति प्रेरणात्मक संदेश दिया।

उन्होंने छात्र छात्राओं को ग्रुप के अंतर्गत होने वाले कार्यक्रम जैसे नुक्कड़ नाटक, संगोष्ठी, काव्य- गोष्ठी, भ्रमण आदि कार्यों में प्रतिभाग करना एवं अपनी उपस्थिति सुनिश्चित करने के प्रति जिम्मेदार होने का संदेश दिया।संयोजक डॉ राखी डिमरी बताया कि कला,विज्ञान एवं वाणिज्य वर्ग के समस्त छात्र छात्राओं को संकायवार बन रहे ग्रुप के माध्यम से अंत में समागम किया जाएगा एवं समस्त छात्र छात्राओं को ज्ञानवर्धक नवाचार रूपी कार्यक्रमों से अवगत कराया जाएगा।

ग्रुप के समन्वयक डॉ अरविंद अवस्थी ने समस्त छात्र छात्राओं को साहित्य एवं कला ग्रुप के महत्व एवं उपयोगिता से रूबरू कराया, साथ ही बताया कि व्यक्तित्व के सर्वांगीण विकास के लिए शिक्षा के साथ-साथ अन्य शिक्षणेत्तर गतिविधियों में प्रतिभाग करने से आत्मविश्वास में वृद्धि होती है, इसलिए ऐसे कार्यक्रमों को कम नही आंकना चाहिए।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.