डा. निधि उनियाल प्रकरण पर सरकार के एक्शन गढ़वाल सभा असंतुष्ट

डा. निधि उनियाल प्रकरण पर सरकार के एक्शन गढ़वाल सभा असंतुष्ट
Spread the love

देहरादून। डा. निधि उनियाल प्रकरण पर सरकार के रवैए और इस पर लिए गए अभी तक के एक्शन से अखिल गढ़वाल सभा ने नाराजगी व्यक्त की है। सभा ने जनहित में स्वास्थ्य सचिव और दून मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल को तत्काल हटाने की मांग की है।

राज्य की स्वास्थ्य सचिव की पत्नी द्वारा डा. निधि उनियाल के साथ किए गए गलत व्यवहार के मामले में सरकार गंभीर नहीं दिख रही है। मामले को दबाने के लिए जांच-जांच हो रही है। इसको लेकर लोगों में नाराजगी है।

शुक्रवार को अखिल गढ़वाल सभी ने प्रेस वार्ता कर इस मामले में कड़ी नाराजगी व्यक्त की। सभा के अध्यक्ष रोशन धस्माना, महासचिव गजेंद्र भंडारी, उपाध्यक्ष निर्मला बिष्ट ने दो टूक कहा कि इस मामले में सरकार के स्तर से उठाए गए कदम नाकाफी हैं।

इस बात पर खासा आक्रोश व्यक्त किया गया कि दून मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल द्वारा डा. निधि उनियाल पर सचिव की पत्नी से माफी मांगने का दबाव बनाया गया। ये राज्य की महिलाओं का अपमान है। इसे कतई सहन नहीं किया जाएगा।

गढ़वाल सभा ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से स्वास्थ्य सचिव और दून मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल को पद से हटाने की मांग की है। साथ ही सचिव की पत्नी डा. निधि उनियाल से माफी मांगे। इस मौके पर संतोष गैरोला, दिनेश बौड़ाई, डा. सूर्य प्रकाश भटट,कुसुमलता शर्मा, उदयवीर सिंह पंवार आदि मौजूद थे।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.