जंतु विज्ञान विभागः चुनौतियों को मौके में बदलने की तैयारी

जंतु विज्ञान विभागः चुनौतियों को मौके में बदलने की तैयारी
Spread the love

श्रीदेव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय का ऋषिकेश परिसर आकार ले रहा है। विश्वविद्यालय की बेहतरी के लिए टीम यूनिवर्सिटी पूरी तरह से तैयार है। विभिन्न विभागों में नियुक्त प्राध्यापकों में कुछ खास करने का जज्बा साफ दिखता है।
हिन्दी न्यूज पोर्टल www.tirthchetna.com विश्वविद्यालय की बेहतरी को टीम यूनिवर्सिटी के प्रयासों में साथ है। पोर्टल विभिन्न विभागों की तैयारी, चुनौती और लक्ष्य को लेकर प्राध्यापकों से बातचीत का अभियान चला रहा है।

ऋषिकेश। श्रीदेव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय की टीम जूलोजी चुनौतियों को मौके में बदलने को तैयार है। इस दिशा में टीम ने काम भी शुरू कर दिया है। एक-एक प्लानिंग में विश्वविद्यालय की बेहतरी और छात्रों के हितों को फोकस में रखा गया है।

शुक्रवार को हिन्दी न्यूज पोर्टल www.tirthchetna.com विज्ञान संकाय के प्रमुख विषय में से एक जूलोजी डिपार्टमेंट में था। विभागाध्यक्ष समेत कुछ प्राध्यापक एडमिशन से संबंधित मीटिंग में व्यस्त थे। इस दौरान विभाग के वरिष्ठ प्राध्यापक प्रो. डीएम त्रिपाठी ने ज्ञान/विज्ञान को साझा किया। इसी बातचीत में काफी हद तक विश्वविद्यालय के जूलोजी डिपार्टमेंट की तैयारियों का भान भी कर दिया।

प्रो. महावीर सिंह रावत, प्रो. राकेश कुमार, प्रो. डीएम त्रिपाठी, डा. स्मिता बडोला और डा. सुरमान आर्य ने एक स्वर में कहा कि हम पूरी तरह से तैयार हैं। संसाधन और मैन पावर को लेकर आ रही समस्याओं के बावजूद टीम ने बेहतरी के लिए काफी कुछ प्लान किया है। एक-एक प्लानिंग में विश्वविद्यालय की बेहतरी और छात्रों के हितों को फोकस में रखा गया है।

कुल मिलाकर टीम जूलोजी चुनौतियों को मौके में बदलने को पूरी तरह से तैयार है। टीम के पास शिक्षण, शोध और प्रशासन का अच्छा अनुभव है। टीम के सदस्यों ने गवर्नमेंट कॉलेजों में रहते हुए तमाम कार्यों को लीड किया। प्रो. रावत विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक का जिम्मा संभाले हुए हैं।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.