ऋषिकेश में कांग्रेस की रणनीति से बदली चुनावी फिजा

ऋषिकेश में कांग्रेस की रणनीति से बदली चुनावी फिजा
Spread the love

ऋषिकेश। ऋषिकेश विधानसभा सीट पर कांग्रेस की रणनीति से चुनावी फिजा बदली-बदली सी लग रही है। 15 साल ऋषिकेश बेहाल का नारा असर दिखा रहा है। इस सवाल पर घनघोर समर्थक भी मुश्किल में दिख रहे हैं।

देहरादून जिले की ऋषिकेश विधानसभा सीट पर 15 सालों के बाद पहली बार अलग तरह की राजनीतिक हवा महसूस हो रही है। कांग्रेस प्रत्याशी जयेंद्र रमोला की जनता के बीच सक्रियता, सामाजिक मुददों में भागीदारी इसकी बड़ी वजह बन रही है।

रमोला जनसंपर्क में 15 साल ऋषिकेश बेहाल की बात को प्रमुखता से रख रहे हैं। लोग इस पर गौर कर रहे हैं। यहीं से काफी कुछ बातें स्पष्ट हो रही हैं। इसके अलावा कांग्रेस पार्टी की खास रणनीति ने ऋषिकेश विधानसभा सीट पर चुनावी फिजा एक तरह से बदलकर रख दिया है।

पार्टी ने भाजपा प्रत्याशी एवं 15 साल से विधायक राज्य के स्पीकर को निशाने पर ले लिया है। कांग्रेस तमाम गंभीर आरोप लगा रही है। कांग्रेस की ये रणनीति काम करती दिख रही है। परिणाम पहली बार ऋषिकेश विधानसभा सीट पर काम को लेकर चर्चा हो रही है।

लोग पूछ रहे हैं कि आखिर राज्य गठन के बाद ऋषिकेश का क्या विकास हुआ। ऋषिकेश की उपेक्षा की क्या वजह है। कौन है जो ऋषिकेश की एडवोकेसी नहीं करता।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.