उत्तराखंड को बिजली कटौती से मुक्त रखने को पावर कारपोरेशन के प्रयासों का दिख रहा असर

उत्तराखंड को बिजली कटौती से मुक्त रखने को पावर कारपोरेशन के प्रयासों का दिख रहा असर
Spread the love

देहरादून। राज्य को बिजली कटौती से मुक्त रखने के लिए उत्तराखंड पावर कारपोरेशन ने कमर कस ली है। इसका असर भी दिख रहा है। पिछले पांच दिनों से किसी प्रकार की रोस्टिंग न होना इस बात का प्रमाण है।

बढ़ती गर्मी की वजह से बिजली की मांग अत्यधिक बढ़ गई है। परिणाम देश के अधिकांश हिस्सों में घंटों पावर कट हो रहा है। उत्तराखंड में भी बिजली कटौती के हालात हैं। बावजूद इसके पिछले पांच दिनों से कटौती नहीं हुई। ऐसा राज्य सरकार के निर्देशों पर उत्तराखंड पावर कारपोरेशन के प्रयासों से संभव हो सका।

राज्य में कुल बिजली की उपलब्धता के बावजूद 30-35 प्रतिशत बिजली की कमी है। राज्य की रोज की मांग करीब 46 एमयू तक पहुंच गई है। केंद्रीय पूल से करीब 34 एमयू बिजली ही उपलब्ध हो रही है। ऐसे में करीब 12 एमयू बिजली की व्यवस्था इनर्जी एक्सचेंज के माध्यम से की जा रही है।

उत्तराखंड पावर कारपोरेशन के एमडी अनिल कुमार ने लोगों से बिजली बचत की अपील की। ताकि बिजली की उपलब्धता को और मजबूती मिल सकें। कारपोरेशन का पूरा प्रयास है कि बिजली की आपूर्ति सुचारू रहे।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.