Sunday, December 5, 2021
Home उत्तराखंड उत्तराखंड में उपनल संविदा कर्मचारियों का दो दिनी कार्यबहिष्कार, जानिए क्या है...

उत्तराखंड में उपनल संविदा कर्मचारियों का दो दिनी कार्यबहिष्कार, जानिए क्या है प्रमुख मांगें

उत्तराखंड में उपनल संविदा कर्मचारियों का दो दिनी कार्यबहिष्कार, जानिए क्या है प्रमुख मांगें।

देहरादून । उपनल कर्मचारी संयुक्त मोर्चा के प्रदेश संयोजक योगेंद्र विश्राल ने कहा कि संविदा कर्मचारियों को वर्षों की सेवा के बावजूद मात्र 10 से 12 हजार रुपये मानदेय दिया जा रहा है। यह मानदेय भी उन्हें समय पर नहीं मिलता। कर्मचारी आंदोलन नहीं चाहते, लेकिन लगातार अनदेखी कर उन्हें इसके लिए मजबूर किया जा रहा है।

उपनल संविदा कर्मचारियों ने समय पर और सम्मानजनक मानदेय देने सहित विभिन्न सात सूत्री मांगों को लेकर आज से प्रदेशभर में दो दिवसीय कार्यबहिष्कार का एलान किया है। कुछ अन्य संगठनों की ओर से भी कर्मचारियों के आंदोलन का समर्थन किया जा रहा है।

उत्तराखंड पूर्व सैनिक कल्याण निगम लिमिटेड (उपनल) कर्मचारी संयुक्त मोर्चा के प्रदेश संयोजक योगेंद्र विश्राल ने कहा कि कर्मचारी आंदोलन नहीं चाहते, लेकिन उनकी मांगों की लगातार अनदेखी कर उन्हें इसके लिए मजबूर किया जा रहा है। मोर्चा के प्रदेश संयोजक ने प्रेस क्लब में मीडिया से वार्ता में कहा कि उपनल संविदा कर्मचारियों को वर्षों की सेवा के बावजूद मात्र 10 से 12 हजार रुपये मानदेय दिया जा रहा है।

यह मानदेय भी उन्हें समय पर नहीं मिलता। उन्होंने कहा कि शासन की ओर से उपनल कर्मचारियों को न हटाने का आदेश जारी किया गया है, इसके बाद भी सेल्स टैक्स से 49 और विद्युत विभाग से 12 कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त कर दी गई हैं। जबकि संबंधित विभाग की ओर से कहा गया है कि इन कर्मचारियों का बेहतर काम है, इन्हें हटाने से काम प्रभावित हो रहा है, लेकिन शासन में बैठे अधिकारी सुनने को तैयार नहीं हैं।

सुप्रीम कोर्ट में दाखिल एसएलपी (विशेष अनुमति याचिका) को वापस ले सरकार
उन्होंने कहा कि सरकार उपनल कर्मचारियों के मसले पर हाईकोर्ट के वर्ष 2018 में आए फैसले पर अमल करते हुए इसे लेकर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल एसएलपी (विशेष अनुमति याचिका) को वापस ले। कर्मचारियों ने कहा कि उनके सुरक्षित भविष्य के लिए सरकार नीति बनाए। उन्होंने कहा कि यदि उनकी मांग पर शीघ्र अमल न किया गया तो दो दिवसीय कार्यबहिष्कार के बाद कर्मचारी बैठक कर आंदोलन की आगे की रणनीति बनाएंगे।

कार्यबहिष्कार के दौरान विभिन्न जिलों में कर्मचारी धरना, प्रदर्शन करेंगे। मीडिया से वार्ता के दौरान मुख्य संयोजक पीएस धामी, प्रदेश महामंत्री प्रमोद गुसाई, जिला संयोजक जगवेंद्र पंवार, सह संयोजक देवेंद्र रतूड़ी, उमेश खत्री, अनिल सिंह कोटियाल, संदीप कुमार, योगेश भाटिया, रतनमणि रणकोटी आदि मौजूद रहे।

कर्मचारियों की कुछ प्रमुख मांगें

1- किसी भी कर्मचारी की सेवा समाप्त न की जाए।

2 – हटाए गए कर्मचारियों को बहाल किया जाए।

3 – कर्मचारियों के मानदेय से टैक्स न काटकर उन्हें इसका सीधा भुगतान किया जाए।

4- सरकार सुप्रीम कोर्ट में दाखिल एसएलपी को वापस ले।

5- उपनल एवं अन्य संविदा कर्मचारियों के सुरक्षित भविष्य के लिए सरकार कोई नीति बनाए।

RELATED ARTICLES

’प्रधानमंत्री की ऐतिहासिक रैली ने साबित किया जनता भाजपा के साथःअनिता ममगाई’

ऋषिकेश। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की देहरादून में हुई ऐतिहासिक रैली ने एक बार फिर साबित कर दिया कि उत्तराखंड की जनता भाजपा के साथ...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गिनाए डबल इंजन सरकार के लाभ

देहरादून। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजधानी में डबल इंजन सरकार से उत्तराखंड को हुए लाभ गिनाए। इसके साथ ही करोड़ों की सौगात देकर प्रधानमंत्री...

ऋषिकेश में गंगा पर बनेगा ट्रांसपरेंट झूला पुल, प्रधानमंत्री मोदी ने किया शिलान्यास

ऋषिकेश। विश्व प्रसिद्ध लक्ष्मणझूला पुल के पास ही बजरंग सेतु के नाम से ट्रांसपरेंट झूला पुल बनेगा प्रस्तावित झूला पुल देश में खास तरह...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

जूनियर हाई स्कूल शिक्षक संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष कुंवर सिंह राणा का अभिनंदन

पौड़ी। जूनियर हाई स्कूल शिक्षक संघ की नव निर्वाचित प्रदेश कार्यकारिणी में उपाध्यक्ष पद पर निर्वाचित कुंवर सिंह राणा का पौड़ी में शिक्षकों ने...

’प्रधानमंत्री की ऐतिहासिक रैली ने साबित किया जनता भाजपा के साथःअनिता ममगाई’

ऋषिकेश। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की देहरादून में हुई ऐतिहासिक रैली ने एक बार फिर साबित कर दिया कि उत्तराखंड की जनता भाजपा के साथ...

भाजपा के लिए संजीवनी साबित हो सकेगा पीएम मोदी का दौरा ?

सुदीप पंचभैया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का दौरा उत्तराखंड में भारतीय जनता पार्टी के लिए संजीवनी से कम नहीं है। कम से कम भाजपा कार्यकर्ता ऐसा...

दून विश्वविद्यालय में हर शनिवार को खास बनाएगा रंगमंच और लोक कला विभाग

देहरादून। दून विश्वविद्यालय में शनिवार कुछ खास होगा। इसका माध्यम बनेगा विश्वविद्यालय का रंगमंच और कला विभाग और अंग्रेजी विभाग। इसकी शुरूआत हो चुकी...

पूर्व मंत्री और उनके विधायक बेटे पर हमला, सीएम आवास पर धरने का ऐलान

देहरादून। भाजपा की मौजूदा सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे यशपाल आर्य और उनके विधायक बेटे संजीव आर्य पर  हमले की सूचना है। आर्य और...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गिनाए डबल इंजन सरकार के लाभ

देहरादून। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजधानी में डबल इंजन सरकार से उत्तराखंड को हुए लाभ गिनाए। इसके साथ ही करोड़ों की सौगात देकर प्रधानमंत्री...

ऋषिकेश में गंगा पर बनेगा ट्रांसपरेंट झूला पुल, प्रधानमंत्री मोदी ने किया शिलान्यास

ऋषिकेश। विश्व प्रसिद्ध लक्ष्मणझूला पुल के पास ही बजरंग सेतु के नाम से ट्रांसपरेंट झूला पुल बनेगा प्रस्तावित झूला पुल देश में खास तरह...

श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय के ऋषिकेश परिसर के स्नातक स्तर के विभाग होंगे अपग्रेड

श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय के स्नातक स्तर के विभागों को अपग्रेड कर पीजी करने की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। इसके लिए जल्द ही...

म्ंगला माता एवं महंत देवेंद्र दास को डी.लिट की उपाधि देगा दून विश्वविद्यालय

देहरादून। दून विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में समाज सेवा के कार्यों में लीन हंस फाउंडेशन की मंगला माता और श्री गुरू राम राय दरबार...

स्वीप टीम ने किया जीजीआईसी राजपुर रोड का दौरा

देहरादून। भारत निर्वाचन आयोग की टीम ने राजकीय बालिका इंटर कालेज, राजपुर रोड की छात्राओं के साथ संवाद करते हुए चुनाव प्रक्रिया के बारे...