चुनाव डयूटी कटवाने को भटक रहे गंभीर बीमारी से ग्रसित शिक्षक/कर्मचारी

चुनाव डयूटी कटवाने को भटक रहे गंभीर बीमारी से ग्रसित शिक्षक/कर्मचारी
Spread the love

देहरादून। चुनाव डयूटी कटवाने के लिए गंभीर रूप से बीमार शिक्षक/कर्मचारी भटकने को मजबूर हैं। उनके आवेदन रिसीव करने तक की व्यवस्था निर्वाचन कार्यालय में नहीं है। इसको लेकर सवाल खड़े हो रहे है।

मीडिया के एक वर्ग में प्रचारित किया जा रहा है या कराया जा रहा है कि चुनाव डयूटी से बचने के लिए शिक्षक/कर्मचारी बीमारी का बहाना बना रहे हैं। मगर,ये पूरी तरह से सच नहीं है। सच ये है कि चुनाव शिक्षक/कर्मचारी ही कराते हैं और कराएंगे।

हां, कोविड के आलोक में कुछ गंभीर बीमारी से संबंधित शिक्षक/कर्मचारी जरूर डयूटी कटवाने के लिए निर्वाचन कार्यालय में भटक रहे हैं। डयूटी कटना तो बाद की बात है ऐसे शिक्षक/कर्मचारियों के आवेदन रिसीव करने तक की कोई व्यवस्था नहीं है।

मंगलवार को एडीएम केके मिश्रा के कार्यालय के बाहर ऐसे कर्मचारियों की भीड़ देखी गई। कार्यालय से टका सा जवाब दिया जा रहा था कि ऐसे आवेदन नहीं लिए जा रहे हैं। बाद में तो दरवाजे ही बंद कर दिए गए। सवाल उठ रहा है जब सीधे आवेदन भी नहीं लिए जा रहे तो हर दिन मीडिया में आवेदनों की संख्या कैसे आ रही है।

आखिर किस माध्यम से आवेदन जमा हो रहे हैं। मौके पर मिले शिक्षक/कर्मचारियों के मुंह से बहुत सी बातें निकल रही थी।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.