एलटी शिक्षक निलंबित, प्रारंभिक जांच में फर्जी साबित हुई बीएड की डिग्री

एलटी शिक्षक निलंबित, प्रारंभिक जांच में फर्जी साबित हुई बीएड की डिग्री
Spread the love

पौड़ी। प्रारंभिक जांच में बीएड की डिग्री के फर्जी साबित होने पर एलटी शिक्षक को निलंबित कर खंड शिक्षाधिकारी कार्यालय से संबद्ध कर दिया गया है। जल्द ही उन्हें आरोप पत्र भी सर्व कर दिया जाएगा।

मामला रूद्रप्रयाग जनपद का है। यहां जीआईसी पठालीधार में एलटी हिन्दी के पद पर तैनात शिक्षक गुलाब सिंह की वर्ष 2004 की चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय मेरट से जारी बीएड की डिग्री प्रारंभिक जांच में फर्जी साबित हुई।

मेरठ विश्वविद्यालय ने अपनी रिपोर्ट में स्पष्ट किया कि बीएड का अंक पत्र और डिग्री विश्वविद्यालय के द्वारा जारी नहीं किया गया है।
इसकी जानकारी मिलते ही नियुक्ति प्राधिकारी मंडलीय अपर शिक्षा निदेशक महावीर सिंह बिष्ट ने ने उक्त शिक्षक को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर खंड शिक्षाधिकारी, अगस्त्यमुनि से संबद्ध कर दिया है। निलंबन पत्र में स्पष्ट किया गया है कि जल्द ही आरोप पत्र सर्व किया जाएगा।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.