श्रीनगर में प्राविधिक शिक्षा निदेशालय के प्रशासनिक भवन का शिलान्यास

श्रीनगर में प्राविधिक शिक्षा निदेशालय के प्रशासनिक भवन का शिलान्यास
Spread the love

राज्य के पॉलिटेक्निक में बेहतर सुविधा मुहैया कराई जाएंगी

तीर्थ चेतना न्यूज

श्रीनगर। राज्य के पॉलिटेक्निक में बेहतर सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। ताकि अच्छे तकनीकी ज्ञान बूते पॉलिटेक्निक डिप्लोमा के बाद युवा स्वरोजगार की दिशा में अग्रसर हों।

ये कहना है राज्य के तकनीकी शिक्षा, वन, भाषा एवं निर्वाचन मंत्री सुबोध उनियाल का। उनियाल गुरूवार को प्रदेश के शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत के साथ यहां प्राविधिक शिक्षा निदेशालय उत्तराखंड के प्रशासनिक भवन के शिलान्यास कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे।

चार करोड़ 92 लाख 33 हजार की लागत से बनने वाले मंजिला भवन का निर्माण कार्य 18 माह में पूर्ण किया जाएगा। तकनीकी शिक्षा मंत्री सुबोध उनियाल ने कार्यदाई संस्था पेयजल निगम पौड़ी को निर्देशित किया कि निर्धारित समय पर भवन का कार्य पूर्ण करना सुनिश्चित करें। साथ ही उन्होंने निर्माणाधीन भवन में शौचालय, विद्युत, पेयजल सहित अन्य व्यवस्थाओं को बेहतर बनाने के निर्देश भी दिए। इस दौरान उन्होंने कहा कि सरकार निरंतर रूप से शिक्षा सहित विभिन्न क्षेत्रों में बेहतर कार्य कर रही है। इस दौरान उन्होंने निदेशालय परिसर में अशोक, रुद्राक्ष के पौधों का रोपण भी किया।

उनियाल ने कहा कि प्राविधिक शिक्षा निदेशालय में समुचित व्यवस्था की जाएगी, जिससे छात्रों को उसका लाभ मिल सकेगा। कहा की पॉलिटेक्निक में विभिन्न तकनीकी कोर्स रखे गए हैं व अन्य पॉलिटेक्निक में भी बेहतर सुविधा दी जाएगी। कहा की पॉलिटेक्निक पूर्ण करने के बाद नौजवान युवा स्वरोजगार की ओर बड़े, जिससे वह अपनी आर्थिकी को मजबूत बना सकेंगे।

कहा कि लक्ष्य को हांसिल करना है तो उसके लिए मेहनत करनी जरूरी है।जिससे क्ष्य प्राप्त होकर गांव का ही नहीं प्रदेश का नाम भी रोशन कर सकोगे। इस दौरान उन्होंने कहा कि समस्त पॉलिटेक्निकों में संपूर्ण व्यवस्था की जाएगी। कहा कि प्रदेश में 72 पॉलिटेक्निक संस्थानों में 10 हजार से अधिक छात्र-छात्राएं शिक्षणरत है। कहा कि प्रदेश के 06 पॉलिटेक्निक कॉलेजों को मॉडल पॉलिटेक्निक के रूप में विकसित किया जाएगा। जिसमें देहरादून, काशीपुर, खटीमा, नैनीताल, श्रीनगर व नरेंद्रनगर सामिल हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि प्रदेश में एकीकृत तकनीकी कॉलेज खोला जाएगा, जिसमे समस्त व्यवस्था की जाएगी। मंत्री ने पॉलिटेक्निक की चार दिवारी हेतु 20 लाख की घोषणा भी की।

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश का दूसरे नंबर पर श्रीनगर का पॉलिटेक्निक है, जहां पठन पाठन के क्षेत्र में विभिन्न तरह की सुविधा छात्र छात्राओं को दी गई है। इस दौरान उन्होंने तकनीकी शिक्षा मंत्री से श्रीनगर पॉलिटेक्निक में रिक्त पदों पर भर्ती व राजकीय पॉलिटेक्निक पाबौ में विभिन्न तकनीकी कोर्स शामिल करने की बात कही।

इसके अलावा उन्होंने आम जनमानस से अपील करते हुए कहा कि वेक्सीनेशन की तीसरी डोज अवश्य लगाएं। कहा कि 30 सितंबर तक वेक्सीनेशन की तीसरी डोज लगाई जाएगी। साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य में अटल आयुष्मान कार्ड बनाने हेतु पॉलिटेक्निक, डिग्री कॉलेज, इंटर कॉलेज सहित अन्य शिक्षण संस्थानों में शिविर लगाकर लोगों के आयुष्मान कार्ड निशुल्क बनाए जाएंगे। कहा कि अटल आयुष्मान कार्ड में 05 लाख तक का फ्री इलाज सरकार द्वारा किया जाएगा।

इस अवसर पर डीआईजी गढ़वाल राज गुप्ता, जिलाधिकारी डॉ0 विजय कुमार जोगदण्डे, निदेशक तकनीकी शिक्षा हरि सिंह, उपनिदेशक/प्रधानाचार्य एसके वर्मा, उपजिलाधिकारी अजयवीर सिंह, अधिशासी अभियंता पेयजल निगम नवनीत कटारिया, एई अरविंद सुंडली सहित अन्य अधिकारी व छात्र उपस्थित थे।

Tirth Chetna

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.