गवर्नमेंट पीजी कॉलेज डाकपत्थर में अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस पर कार्यक्रम

गवर्नमेंट पीजी कॉलेज डाकपत्थर में अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस पर कार्यक्रम
Spread the love

डाकपत्थर। गवर्नमेंट पीजी कॉलेज, डाकपत्थर में अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस पर शैक्षणिक कार्यक्रम आयोजित किए गए। इसके अलावा कॉलेज के अंग्रेजी विभाग में विभागीय परिषद के बैनर तले प्रतियोगिताएं आयोजित की गई।

सोमवार को कॉलेज के हिंदी एवं अंग्रेजी विभाग में विभागीय परिषद के अंतर्गत निबंध प्रतियोगिता एवं पोस्टर प्रतियोगिताएं संपन्न की गई। हिंदी विभागीय परिषद की संयोजक डॉ. नीलम ध्यानी ने बताया कि आज की निबंध प्रतियोगिता अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस के अवसर पर आयोजित की गई।

“हिंदी भाषा और रोजगार के अवसर विषय आयोजित निबंध प्रतियोगिता में 30 छात्र छात्राओं ने प्रतिभाग किया। निर्णायक के रूप में डॉ दीप्ति बगवाड़ी, डॉ. राजकुमारी भंडारी एवं डॉ माधुरी रावत के संयुक्त निर्णयानुसार शिखा शर्मा ने प्रथम, हरीश चंद्र नौटियाल ने द्वितीय और नीतेश नौटियाल ने तीसरा स्थान प्राप्त किया।

कॉलेज के प्रिंसिपल प्रो. जीआर सेमवाल ने हिंदी दिवस के महत्व को समझाते हुए बताया कि विविधताओं के देश भारत में हिंदी भाषा समस्त लोगों को एकता के सूत्र में पिरोने का कार्य करती है, जिस कारण से दुनिया भर में बसे भारतीयों को भावनात्मक रूप से एक साथ जुड़ने का अवसर भी प्राप्त होता है। हिंदी भाषा को महत्व देते हुए एवं इसकी अहमियत को ध्यान में रखते हुए प्रत्येक वर्ष 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसका उद्देश्य विश्व में हिंदी के प्रचार प्रसार के लिए जागरूकता पैदा करना तथा हिंदी को वैश्विक भाषा बनाने के रूप में प्रस्तुत करना है।

अंग्रेजी विभागीय परिषद की संयोजक डॉ दीप्ति बगवाड़ी एवं सह संयोजक डॉ माधुरी रावत के नेतृत्व में एक पोस्टर प्रतियोगिता संपन्न की गई। पोस्टर प्रतियोगिता में छात्र छात्राओं ने अपने पाठ्यक्रम से संबंधित कवियों के चित्र प्रस्तुत किए।

इसमें अमीषा तोमर ने प्रथम, कुणाल ने द्वितीय और सलोनी ने ततीय स्थान प्राप्त किया। बी ए द्वितीय वर्ष से प्रथम स्थान स्नेहा, द्वितीय स्थान रितिक पांडे एवं तृतीय स्थान अनीशा अग्रवाल को दिया गया। जिसमें निर्णायक मंडल में डॉ. नीलम ध्यानी, डॉ. पूजा राठौर एवं डॉ. राजकुमारी भंडारी शामिल थी।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.