पुरानी पेंशनः एनपीएस के पक्षधरों पर दिखने लगा है दबाव

पुरानी पेंशनः एनपीएस के पक्षधरों पर दिखने लगा है दबाव
Spread the love

देहरादून। शिक्षक/कर्मचारियों की पुराने पेंशन बहाली की मांग का दबाव एनपीएस के पक्षधरों के चेहरों पर दिखने लगा है। पुरानी पेंशन लेते हुए एनपीएस को अच्छा बताने वाले अधिकारियों के स्वर बदलने लगे हैं।

उत्तर प्रदेश समाजवादी पार्टी के प्रमुख एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के शिक्षक/कर्मचारियों की पुराने पेंशन बहाली के दांव से एनपीएस के कटटर समर्थक राजनीतिक दल सकपका गए हैं। सपा ने सरकार में आने पर पुराने पेंशन बहाल करने की बात कही है।

ऐसा वादा करने से पहले पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने पूरा होमवर्क किया। शासन चलाने वाले अधिकारियों को टटोला। ये बात सामने आई कि पेंशन दी जा सकती है। इसके बाद सपा ने इसे मुददा बना दिया। सपा को इसका लाभ होते हुए भी दिख र हा है।

अब इसका दबाव एनपीएस के पक्षधरों के चेहरों पर दिखने लगा है। दबी जुबान कई दिग्गज ऑफ द रिकॉर्ड बोलने भी लगे हैं। पुरानी पेंशन लेते हुए एनपीएस को अच्छा बताने वाले अधिकारियों के स्वर बदलने लगे हैं। इसे राष्ट्र हित से जोड़कर शिक्षक/कर्मचारियों पर दबाव बनाने की रणनीति भी अब हर कोई समझ चुका है।

कुल मिलाकर स्वयं पेंशन लेने वाले राजनेताओं के लिए अब सरकारी शिक्षक/कर्मचारियों की पुरानी पेंशन बहाली की मांग को टरकाना मुश्किल होगा।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.