महाराणा प्रताप गवर्नमेंट डिग्री कॉलेज नानकमत्ता में एनएपीएस पर कार्यशाला में

महाराणा प्रताप गवर्नमेंट डिग्री कॉलेज  नानकमत्ता में एनएपीएस पर कार्यशाला में
Spread the love

आत्म निर्भर भारत के लिए कौशल विकास जरूरी

तीर्थ चेतना न्यूज

नानकमत्ता। महाराणा प्रताप गवर्नमेंट डिग्री कॉलेज, नानकमत्ता में राष्ट्रीय प्रशिक्षुता संवर्द्धना योजना पर कार्यशाला आयोजित की गई। इसमें विषय विशेषज्ञों ने आत्म निर्भर भारत के लिए कौशल विकास पर जोर दिया।

शनिवार को कॉलेज में आयोजित एनएपीएस कार्यशाला में आईटीआई, सितारंगत के कार्यदेशक भूपेंद्र सिंह रावत और प्रताप सिंह मेर बतौर मुख्य वक्ता मौजूद रहे। दोनों तकनीकी विशेषज्ञों ने कौशल विकास को केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी।साथ ही कॉलेज के छात्र छात्राओं को एनएपीएस पोर्टल पर पंजीकृत कराया ।

कॉलेज की प्रिंसिपल प्रो. अंजला दुर्गापाल द्वारा कौशल विकास एवं आत्मनिर्भर भारत विषय परविचार व्यक्त किए गये । जी -20 सम्मेलन के तहत प्रो ० मृत्युंजय शर्मा , भौतिक विज्ञान विभाग द्वारा जलवायु परिवर्तन पर प्रकाश डालते हुए छात्र – छात्राओं को जागरुक करने हेतु डॉक्यूमेंट्री दिखाई।

प्रो. वीएस शर्मा ने मादक पदार्थों के सेवन से होने वाली हानियों को बताया तथा डॉक्यूमेंट्री के माध्यम से मादक पदार्थों के सेवन से होने वाले दुष्परिणामों पर प्रकाश डाला । इस अवसर पर प्रो. राकेश कुमार , प्रो. विद्या शंकर शर्मा , प्रो. मृत्युंजय शर्मा , डॉ. चम्पा टम्टा , डॉ. दीप्ति कार्की , डॉ ० राकेश कुमार , डॉ. ललित सिंह बिष्ट , डॉ. स्वाति पंत लोहनी , डॉ. दर्शन मेहता , डॉ. ममता ,
डॉ. कंचन जोशी , डॉ. प्रियंका विश्वकर्मा , डॉ. स्वाति टम्टा एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों में जमन सिंह बिष्ट , गंगा गिरी , राम जगदीश सिंह , विपिन सिंह थापा , सुनील प्रकाश , संतोष चंद आदि मौजूद थे।

Tirth Chetna

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *