स्वच्छता मिशन को गति देने को निगम ने उतारे 10 कूड़ा वाहन

स्वच्छता मिशन को गति देने को निगम ने उतारे 10 कूड़ा वाहन

- in ऋषिकेश
0

ऋषिकेश। तीर्थनगरी ऋषिकेश में स्वच्छता मिशन को गति दिने के लिए नगर निगम ने 10 नए कूड़ा वाहनों को उतारा। मेयर अनिता ममगाईं ने कूड़ा वाहनों को झंडी दिखाई।

सोमवार को एक सादे समारोह में मेयर श्रीमती अनिता ममगाईं ने 10 नए कूड़ा वाहनों को हरी झंडी दिखाकर क्षेत्र के स्वच्छता मिशन के लिए रवाना किया। इस मौके पर उन्होंने निगम के अधिकारियों और पर्यावरण मित्रों का आहवान किया कि शहर को स्वच्छ रखने में कोई कसर न छोड़ें।

दरअसल, वर्ष 2021 के लिए स्वच्छता रैंकिग में सुधार के लिए नगर निगम प्रशासन प्रयास शुरू कर दिए हैं। मेयर और आलाधिकारी इसकी स्वयं मॉनिटरिंग कर रहे हैं। जनता से भी सहयोग लिया जा रहा है।

बहरहाल, इस मौके पर मेयर ने कहा कि सामुहिक प्रयास से कूड़ा मुक्त शहर का सपना जल्द होगा साकार।उन्होंने बताया कि निगम के आखरी घर तक कूड़ा वाहन भेजना उनका लक्ष्य है जिसके लिए कूड़े वाहन की ऑनलाइन मॉनिटरिंग अक्टूबर महीने से शुरू की जाएगी।महापौर ने शहरवासियों से अपील करते हुए कहा कि जिम्मेदार नागरिक का फर्ज अदा करते हुए स्वच्छता मिशन में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें और सूखा कूड़ा, गीला कूड़ा अलग अलग कर गाड़ियों में डालें।इस पर संजीदगी से अमल होने पर इसका निस्तारण संभव हो सकेगा।

बताया कि सूखा कूड़ा निस्तारण के लिए स्वच्छता केंद्र जो गोविंद नगर स्थित ट्रेंचिंग ग्राउंड में स्थापित किया जा रहा है वह तीन महीने के भीतर काम करना शुरू कर देगा। उन्होंने बताया कि प्लास्टिक वेस्ट हटाने के लिए जीआईजेड कंपनी से निशुल्क करार हो गया है।

इस अविरक प्रोजेक्ट के एक साल के भीतर सकारात्मक नतीजे शहरवासियों को दिखने लगेंगे।महापौर ममगाई ने यह जानकारी दी कि गीले कूड़ा निस्तारण के लिए निगम ने कम्पोजिट पिट बनाना शुरू कर दिया है ।

इसी कड़ी में नगर आयुक्त नरेंद्र क्वीरियाल ने अपने सरकारी निवास में एक पिट बनवाई है जिससे लोगों को यह संदेश जाए कि वह भी यह काम अपने घर में कर सकते हैं। इससे जो जैविक खाद बनेगी उसका इस्तेमाल अपनी किचन गार्डन में कर सकेंगे।महापौर के अनुसार जल्द ही खाद बनाने वाली मशीन कंपोस्टर भी निगम लगाएगा।

उन्होंने बताया कि तमाम वार्डो में 50 हजार कूड़ेदान निशुल्क बांटने के लिए निगम की निविदा प्रक्रिया पूरी हो गई है।अक्टूबर से यह कूड़ेदान भी हर घर में बांटे जाएंगे। इस मौके पर उन्होंने निगम के तमाम सफाई निरीक्षकों को आदेशित करते हुए कहा कि शहर में कोरोना एवं डेंगू की रोकथाम के लिए सफाई व्यवस्था में किसी भी तरह की ढील ना बरतें।

निरीक्षण के दौरान यदि किसी भी क्षेत्र में लापरवाही पाई गई तो उसकी जवाबदेही सफाई निरीक्षक की होगी।महापौर ममगई के अनुसार बोर्ड के गठन के साथ जब उन्होंने कार्यकाल संभाला तो संशाधनों की बहुत कमी थी ,सिर्फ 9 कूड़ा गाड़ी निगम के पास थी,वो भी अच्छी स्तिथि में नहीं थी।

डेढ़ वर्ष में संशाधन जुटाने में निगम कामयाब रहा।अब तक बीस नए कूड़ा वाहन जनता की सेवा में लगा दिए है।इस अवसर पर नगर मुख्य आयुक्त नरेंद्र सिंह क्वीरियाल,सहायक नगर आयुक्त विनोद लाल,एलम दास,पार्षद राजेंद्र प्रेम सिंह बिष्ट,बिजय बडोनी, अजीत सिंह, गुरविंदर सिंह, रीना शर्मा, विजेन्द्र मोगा,राकेश सिंह मिंया, लक्ष्मी रावत, वीरेंद्र रमोला, जयेश राणा, रश्मी देवी, राधा रमोला  सफाई निरीक्षक धीरेंद्र सेमवाल, अभिषेक मल्होत्रा सचिन रावत, प्रशांत कुकरेती, संतोष गुसाई,अशोक पासवा,नवीन नोटियाल आदि उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ेः विधायकों का होने लगा है क्षेत्र में तकाजा

यह भी पढ़ेः जनता की कसौटियों पर खरा उतरना ध्येयः अनिता ममगाई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

सीएमओ के आश्वासन पर पालिकाध्यक्ष और स्वास्थ्य कर्मियों का अनशन स्थगित

देवप्रयाग। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के संविदा कर्मियों के