अवमुक्त धनराशि के आशातीत व्यय न होने से डीएम नाराज

अवमुक्त धनराशि के आशातीत व्यय न होने से डीएम नाराज
Spread the love

नई टिहरी। विकास कार्यों के लिए अवमुक्त धनराशि के सापेक्ष आशातीत व्यवस्थ न करने वाले विभागों पर जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की।

शनिवार को जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव की अध्यक्षता में जिला सेक्टर एवं बीस सूत्री योजना की बैठक आयोजित की गई। जिलाधिकारी ने विभागवार विभागों को अवमुक्त धनराशि के सापेक्ष व्यय की गई धनराशि की जानकारी लेते हुए अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।

जिलाधिकारी ने कम व्यय प्रगति वाले विभागों के प्रति नाराजगी जाहिर करते हुए कार्यों में तेजी लाते हुए शेष धनराशि को समयान्तर्गत खर्च करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी को निर्देशित किया कि सभी विभागों से जिनको धनराशि हस्तान्तरित हुई, उनसे अद्यावधि तक व्यय की गई धनराशि के साथ ही कार्यों की प्रगति रिपोर्ट लेना सुनिश्चित करें।

कहा कि 15 दिन के अन्दर के एक बैठक भी आयोजित करवा लें। साथ ही कहा कि जिन विभागों द्वारा धनराशि खर्च करने में असमर्थता जताई गई है, उनसे बजट वापस लेते हुए अन्य विभाग, जिनको अतिरिक्त धनराशि की आवश्यकता है, डिमांड पत्र प्राप्त करते हुए एक सप्ताह के अन्दर धनराशि जारी कर दें। जिलाधिकारी ने बीस सूत्रीय योजना के अन्तर्गत ‘बी‘ श्रेणी वाले विभागों को कार्यों में प्रगति लाने के निर्देश दिये।

लोक निर्माण विभाग के अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि जिला योजना के अन्तर्गत सड़क एवं पुल में अवमुक्त 523.65 लाख में से 244.62 लाख व्यय हो चुका है तथा अवशेष 279 लाख भी खर्च हो जायेगा। अधिशासी अभियन्ता लो.नि.वि. घनसाली ने बताया कि उनके क्षेत्र में 03 रोड़ 05-05 किमी. की सेंक्सन हुई, जो वन हस्तान्तरण के कारण लम्बित है, इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि सड़कों का विवरण उपलब्ध करायें। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि थौलधार ब्लॉक के छाम में पोल्ट्री फार्म लगाने में स्थानीय स्तर पर कुछ दिक्कत हो रही है, इस पर जिलाधिकारी ने जिला विकास अधिकारी को ब्लॉक में विजिट कर साइट देखने के निर्देश दिये।

जिला योजना के अन्तर्गत कुल अनुमोदित परिव्यय धनराशि रूपये 6654.00 लाख सापेक्ष शासन से शतप्रतिशत धनराशि अवमुक्त हुई, अवमुक्त धनराशि के सापेक्ष विभागों द्वारा 5686.57 लाख व्यय किया गया। जल संस्थान द्वारा अवमुक्त धनराशि रूपये 1400 लाख के सापेक्ष 1290.52 लाख व्यय, उद्यान द्वारा अवमुक्त धनराशि 650 लाख के सापेक्ष 553.98 लाख व्यय, माध्यमिक शिक्षा द्वारा अवमुक्त धनराशि 310 लाख के सापेक्ष 214.72 लाख व्यय, निजी लघु सिंचाई द्वारा अवमुक्त धनराशि 258.10 लाख के सापेक्ष 176.15 लाख व्यय, राजकीय सिंचाई द्वारा अवमुक्त धनराशि 504 लाख के सापेक्ष 427.49 लाख, पूल्ड आवास द्वारा अवमुक्त धनराशि 225 लाख के सापेक्ष 172.13 लाख व्यय किया गया।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी नमामी बंसल, डीएफओ टिहरी डिवीजन वी.के. सिंह, जिला विकास सुनील कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. संजय जैन, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. एस.के. बर्तवाल, मुख्य कृषि अधिकारी अभिलाषा भट्ट, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी निर्मल शाह, अधिशासी अभियंता जल संस्थान सतीश चंद्र नौटियाल सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.