ये हरक सिंह रावत क्या बोल रहे हैं…? वह चोर बोलें, अपराधी बोलें, मैं उनके चरणों में नतमस्तक हूं

Spread the love

देहरादून। उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस की प्रदेश चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत के साथ लंबी तकरार के बाद कैबिनेट मंत्री डा हरक सिंह रावत ने अब नया पैंतरा चला है। उन्होंने रावत के प्रति अपने सुर नरम किए हैं। शुक्रवार को मीडिया से बातचीत में उन्होंने हरीश रावत को बड़ा भाई स्वीकारते हुए कहा कि उनकी हर बात आशीर्वाद है। साथ ही यह भी जोड़ा कि वह कांगेस में वापसी के लिए नहीं, बल्कि बड़े भाई से माफी मांग रहे हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत और कैबिनेट मंत्री डा हरक सिंह रावत के बीच लंबे समय से जुबानी जंग चल रही है। हरीश रावत ने पूर्व में वर्ष 2016 के सियासी घटनाक्रम का जिक्र करते हुए तब उनकी सरकार गिराने वालों को पापी और अपराधी तक करार दिया था। इससे आहत कैबिनेट मंत्री हरक सिंह ने दो दिन पहले ही हरीश रावत पर जोरदार निशाना साधा था और यह तक कह दिया था कि तब हरीश रावत उन्हें हर तरह से फंसाना चाहते थे। उन्होंने रावत पर उनके खिलाफ षड़यंत्र रचने का भी आरोप लगाया था।

गौरतलब है कि हरक सिंह रावत भी उन नौ विधायकों में शामिल थे, जिन्होंने वर्ष 2016 में कांग्रेस छोड़कर भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली थी।अब कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने हरीश रावत के प्रति अपने सुर नरम कर लिए हैं। मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि हरीश रावत कुछ भी बोलें, उनके लिए सात खून माफ हैं। हरक ने कहा, हरीश रावत बड़े भाई हैं, उनके खिलाफ कुछ नहीं बोलूंगा। वह चोर बोलें, अपराधी बोलें, मैं उनके चरणों में नतमस्तक हूं। बड़े भाई हैं उनका हर शब्द मेरे लिए आशीर्वाद है। यह पूछे जाने पर कि हरीश रावत भी यही चाहते थे कि वे माफी मांगे, इस पर हरक ने कहा कि यह माफी कांग्रेस में वापसी के लिए नहीं है, वह बड़े भाई हैं, इसलिए माफी मांग रहे हैं।

चौंपियन के प्रति मेरा प्रेम नहीं होगा कम
हाल में खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह चौंपियन द्वारा उन्हें निशाने पर लिए जाने के बारे में पूछने पर कैबिनेट मंत्री रावत ने कहा कि चौंपियन कुछ भी कह दें, उनके लिए भी सात खून माफ हैं। हरक ने आगे कहा, चौपियन मेरा छोटा भाई है। उसके प्रति मेरा प्रेम कभी भी कम नहीं होगा।

Amit Amoli

Leave a Reply

Your email address will not be published.