मांगलगीतों के साथ उत्तराखंड महोत्सव का आगाज

Spread the love

नई टिहरी। उत्तराखंड दिवस के उपलक्ष्य पर फूल सिंह बिष्ट राजकीय महाविद्यालय लम्बगांव में उपलक्ष्य में एक सप्ताह तक चलने वाले उत्तराखंड महोत्सव का शुभारंभ मांगल गीतों के साथ हुआ। कार्यक्रम के पहले दिन महाविद्यालय में मांगल गीत, लोकगीत व भाषण प्रतियोगिता आदि का आयोजन किया गया।

बुधवार को फूल सिंह बिष्ट राजकीय महाविद्यालय लंबगांव में आयोजित उत्तराखंड महोत्सव का शुभारंभ प्राचार्य प्रो. हितेश कुमार जोशी ने किया। प्राचार्य ने कहा कि राज्य के विकास के लिए छात्र-छात्राओं को आगे आना होगा और सभी को उत्तराखंड के ऐतिहासिक व्यक्तित्वों से प्रेरणा लेनी चाहिए। महोत्सव में उत्तराखंड की लोक संस्कृति, राज्य आंदोलन की वैचारिक विरासत और उत्तराखंड का सांस्कृतिक वैभव केंद्रीय विषय रहा। मांगल गीत प्रतियोगिता में कु. करिश्मा प्रथम व किरन द्वितीय रही। जबकि लोकगीत रितांशी, श्वेता, कंचन, शालू एवं स्मृति की टीम ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। भाषण प्रतियोगिता में कु. करिश्मा प्रथम, सूरज पंवार व शिक्षा रावत द्वितीय तथा शीतल रावत तृतीय स्थान पर रही। मौके पर डॉ. विपिन शर्मा, भरत सिंह राणा, भरत सिंह चुफाल, धनेश उनियाल, अजीत राणा, अमिता, मनवीर कंडारी, बलबीर चौहान, मयनी, लोकेश, आदि मौजूद रहे। वहीं उत्तराखंड दिवस के मौके पर नवजीवन आश्रम इंटर कालेज घुत्तू भिलंग में सारथी संगठन की ओर से सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमें विभिन्न विद्यालयों के छात्र-छात्राओं ने प्रतिभाग किया।

प्रतियोगिता में प्रथम स्थान राजकीय इंटर कालेज धोपडधार के छात्र अतुल शाह, द्वितीय स्थान नवजीवन आश्रम इंटर कालेज घुत्तू के नवनीत पैन्यूली तथा तृतीय स्थान राजकीय इंटर कालेज धोपडधार के धर्मेन्द्र मैठाणी ने प्राप्त किया। जबकि आशुतोष रौथान, जितेंद्र सिंह बड़ौनी, अनमोल तिवारी, विनीता रौतेला और सुष्मिता को सांत्वना पुरस्कार से सम्मानित किया गया। मौके पर सारथी संगठन के अध्यक्ष पवन सिंह पंवार, शिक्षक अविभावक संघ के अध्यक्ष शिव सिंह रौथाण, ज्येष्ठ उपप्रमुख राजेन्द्र गुसाईं, विक्रम लाल शाह, विजय बहादुर, प्रीतम सिंह राणा,कमल नयन सेमल्टी, रतन मणि भट्ट, रणजीत सिंह राणा, संतोष नामदेव, राजेंद्र चौहान, रजनीश पैन्यूली आदि मौजूद रहे।

Amit Amoli

Leave a Reply

Your email address will not be published.