उत्तराखंड के 3 दिवसीय दौरे पर केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल, बोले मोदी सरकार ने 7 वर्षों में किए विकास के नए कीर्तिमान स्थापित, 2023 तक घोषित लक्ष्यों को हर हाल में पूरा करेगी केंद्र सरकार

Spread the love

ऋषिकेश। केंद्रीय जल शक्ति राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने कहा कि केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में पिछले सात वर्षों में विकास के नए कीर्तिमान स्थापित किए हैं। हमारी सरकार ने आजादी के अमृत महोत्सव के तहत 15 अगस्त 2023 तक सभी घोषित लक्ष्य को पूरा करने का संकल्प लिया है।

उत्तराखंड के तीन दिवसीय दौरे पर पहुंचे केंद्रीय राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने शुक्रवार को मुनिकीरेती स्थित वसुंधरा पैलेस में नरेंद्रनगर विधानसभा में भाजपा के सभी चार मंडलों के पदाधिकारियों के साथ संवाद किया। उन्होंने केंद्र सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को जन जन तक पहुंचाने के लिए कार्यकर्त्ताओं से अपील की। इस से पूर्व केंद्र मंत्री ने नमामि गंगे योजना के तहत बने ऋषिकेश के चंद्रेश्वर नगर स्थित एसटीपी प्लांट का भी निरीक्षण किया।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए प्रहलाद सिंह पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सभी केंद्रीय मंत्रियों को खासतौर से हिमालय राज्यों में जाकर और वहां पर सरकार के कामकाज की समीक्षा करने और नई चुनौतियों का अध्ययन करने के लिए निर्देशित किया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने देश के विकास के लिए जो लक्ष्य स्थापित किए थे, उन्हें समयवधता के साथ पूरा किया जा रहा है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर सरकार ने देश को खुले में शौच मुक्त करने का लक्ष्य निर्धारित किया था। इस दिशा में आज हम पूरी तरह से कामयाब हुए हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार ने अब ग्राम पंचायतों और निकायों को ओडीएफ प्लस टू की रेटिंग देने के लिए योजना बनाई है। इसमें ठोस अपशिष्ट प्रबंधन, भूजल प्रबंधन, आंगनबाड़ी, धार्मिक स्थल और बाजारों को स्वच्छ बनाकर आदर्श स्थापित करना है। उन्होंने कहा कि जब देश आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा होगा, तब हम हर घर को बिजली, पानी का कनेक्शन, रसोई गैस और आयुष्मान कार्ड से अच्छादित कर सकेंगे।

समय से पहले योजनाओं को पूरा करने पर फोकस
उन्होंने कहा कि आज 47.3 प्रतिशत घरों में पानी के नल से पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित करने में हम कामयाब हो चुके हैं। समय से पहले योजनाओं को पूरा करने का काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों में योजनाओं को क्रियान्वित होने में दशकों का समय लग जाता था, मगर हमारी सरकार ने निश्चय किया है कि योजना का भूमि पूजन भी हम ही करेंगे और लोकार्पण भी। उन्होंने कहा कि प्रत्येक घर में पानी की गुणवत्ता को सुनिश्चित करने के लिए पंचायतों में पानी समितियों का गठन किया जा रहा है, जिसकी जिम्मेदारी 50 प्रतिशत महिलाएं तय करेंगी। उन्होंने कहा कि आज सरकार आम जरूरत को ध्यान में रखते हुए योजनाएं तैयार कर उन्हें अमलीजामा पहनाने का काम कर रही है।

लगातार गिर रहे भूमिगत जलस्तर पर जताई चिंता
केंद्रीय राज्य मंत्री पटेल ने कहा कि आने वाले समय में आचार संहिता के चलते विकास कार्यों में शिथिलता आ सकती है। मगर, हमने चुनाव आयोग से आग्रह किया है कि जल जीवन मिशन की परियोजनाओं को आचार संहिता की बाध्यता से अलग रखें। ताकि सरकार अपने लक्ष्य के अनुसार योजनाओं को तय समय पर पूरा कर सके। केंद्रीय मंत्री ने लगातार गिर रहे भूमिगत जल का स्तर पर चिंता जताते हुए इसके लिए पर्यावरण संरक्षण और सामूहिक जिम्मेदारी के साथ आगे बढ़ने की बात कही।

इस अवसर पर नरेंद्र नगर विधायक व कृषि मंत्री सुबोध उनियाल, पेयजल मंत्री बिशन सिंह चुफाल, पालिकाध्यक्ष रोशन रतूड़ी, मंडी समिति के अध्यक्ष विनोद कुकरेती, भाजपा जिला अध्यक्ष विनोद रतूड़ी, जिला महामंत्री नलिन भट्ट, जिला प्रभारी मधु भट्ट, जिला कोषाध्यक्ष भगवती प्रसाद रतूड़ी, मंडल अध्यक्ष राकेश भट्ट, राकेश पुरी, नरेंद्र नेगी, इंदिरा आर्य, पुष्पा ध्यानी, हर्ष पाल पुरी, बीना जोशी, भगवती प्रसाद काला, बांकेलाल पांडे, रेखा राणा, सीमा बिजलवाण आदि मौजूद रहे।

Amit Amoli

Leave a Reply

Your email address will not be published.