आतंकवादी गिरफतारी संशोधित

Spread the love

मुम्‍बई। एक बड़े आतंकी मॉड्यूल का हिस्सा रहे पाकिस्तान के ISI से जुड़े 6 आतंकवादियों को मंगलवार (14 सितंबर) को गिरफ्तार किए जाने के कुछ घंटों बाद, मुंबई पुलिस ने अंडरवर्ल्ड ऑपरेटिव जान मोहम्मद शेख उर्फ समीर कालिया के परिवार के सदस्यों से पूछताछ की। समीर कालिया 12 सितंबर से घर से गायब था और 14 को उसकी गिरफ्तारी की बात सामने आई है। दिल्ली क्राइम ब्रांच के मुताबिक, शेख को मुंबई से दिल्ली जाने के दौरान ट्रेन में कोटा से गिरफ्तार किया गया। अभी भी समीर की पत्नी और बेटियों से मुंबई के धारावी पुलिस स्टेशन में पूछताछ जारी है।

महाराष्ट्र ATS की टीम यह जानना चाहती है कि समीर मुंबई या महाराष्ट्र के कुछ अन्य इलाकों में कुछ अन्य लोगों के संपर्क में था या नहीं? सूत्रों के मुताबिक, समीर की पत्नी ने पुलिस को बताया है कि समीर के आतंकी होने का उन्हें कभी शक नहीं हुआ। पेशे से ड्राइवर शेख के आतंकी होने की जानकारी मिलने के बाद से पड़ोसी और परिजन हैरान हैं। उनका कहना है कि शेख एक ‘फैमिली मैन’ है और उसने कभी किसी से तेज आवाज में बात भी नहीं की है।

समीर का परिवार मुंबई सेंट्रल के सायन इलाके में एमजी रोड पर कलाबखर इलाके की झुग्गी में रहता है। उसकी दो बेटियां हैं। पुलिस ने परिवार के साथ उनके पड़ोसियों से भी पूछताछ की है। लगभग सभी ने समीर के आतंकी होने पर हैरानी जताई। इस मामले में रात को मुंबई के कुछ अन्य इलाकों में भी छापेमारी हुई है। हालांकि, वहां से कुछ बरामद हुआ है या नहीं यह मुंबई पुलिस ने नहीं बताया है।
समीर हथियार मुहैया करवाता था दाउद के भाई अनीस इब्राहिम ने समीर को भारत में विभिन्न संस्थाओं को IED, हथियार और हथगोले की डिलीवरी सुनिश्चित करने का काम सौंपा था। जांच एजेंसी के मुताबिक, अनीस ने आने वाले त्योहांरी सीजन में दिल्ली, UP, महाराष्ट्र और देश के अन्य राज्यों में हत्याएं और धमाके करने की प्लानिंग की थी।

इन 6 लोगों की हुई गिरफ्तारी दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने मंगलवार को राजस्थान, उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र से जान मोहम्मद शेख उर्फ समीर कालिया, ओसामा उर्फ सामी, जीशान कमर, मोहम्मद अबू बकर, मोहम्मद आमिर जावेद, मूलचंद उर्फ ‘साजू’ उर्फ लाला को गिरफ्तार किया है। ये सभी दिल्ली, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश के बड़े शहरों को टार्गेट कर बड़े धमाके की प्लानिंग कर रहे थे।
पाकिस्तान में ट्रेनिंग के बाद दिल्ली में धमाका करने वाले थे दो आतंकी गिरफ्तार किए गए कुल छह लोगों में से ओसामा उर्फ सामी और जीशान कमर ने पाकिस्तान में ट्रेनिंग ली थी। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने बताया कि ये पहले प्लेन से मस्कट और फिर समुद्र के रास्ते पाकिस्तान के ग्वादर पोर्ट गए थे। उन्हें पाकिस्तान में 15 दिनों तक हथियार चलाने और विस्फोटक बनाने की ट्रेनिंग दी गई थी, जिसके बाद वे उसी रास्ते से भारत लौट आए। भारत लौटने पर, उन्हें IED लगाने के लिए दिल्ली और UP में विभिन्न स्थानों की रेकी का काम सौंपा गया था।

14 दिन की पुलिस रिमांड में भेजे गए 4 आतंकी दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किए गए 6 में से 4 आतंकियों को मंगलवार रात कोर्ट में पेश किया। सुनवाई के बाद चारों को 14 दिनों के लिए पुलिस रिमांड में भेज दिया गया। दिल्ली पुलिस की टीम 2 अन्य को आज दोपहर कोर्ट में पेश करेगी। पुलिस का दावा है कि 4 में से 2 आतंकियों ने पाकिस्तान में ट्रेनिंग ली थी। गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए इनकी गिरफ्तारी हुई है।

Amit Amoli

Leave a Reply

Your email address will not be published.