महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग का हो पुर्नगठन

महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग का हो पुर्नगठन

- in देहरादून
0

देहरादून। महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग अधिकारी संघ ने विभाग के पुर्नगठन समेत तमाम मांगें विभागीय मंत्री के सम्मुख रखी। इस पर संघ को इसी वित्तीय वर्ष में मांगों के पूरा होने का भरोसा भी मिला। 

मौका था महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग अधिकारी संघ , उत्तराखंड का प्रथम प्रान्तीय द्विवार्षिक अधिवेशन का। विभागीय मंत्री श्रीमती रेखा आर्य ने अधिवेशन का बतौर मुख्य अतिथि दीप प्रज्जवलित कर शुभारंभ किया। अधिवेशन में विभागीय सचिव हरीश चंद्र सेमवाल ने भी प्रतिभाग किया।

इस जिला कार्यक्रम अधिकारी अखिलेश मिश्र द्वारा विभागीय कार्यों की महत्ता की जानकारी दी गई। वर्तमान अध्यक्ष श्रीमती अंजू बडोला, उपाध्यक्ष श्री धर्मवीर सिंह द्वारा विभागीय कार्यों के निष्पादन में आ रही समस्याओं के बारे में माननीय मंत्री जी को अवगत कराया गया। संघ के महामंत्री देवेंद्र प्रसाद थपलियाल द्वारा तीन सूत्रीय मांग पत्र का वाचन किया गया ।

इसमें बाल विकास परियोजना अधिकारियों/जिला कार्यक्रम अधिकारियों के वेतन उच्चीकरण की मांग की गई। ध्यातव्य है कि इस सम्बंध में वर्ष 2013 में मंत्रिमंडल द्वारा भी आदेश पारित किया जा चुका है। दूसरी मांग के रूप में विभागीय पुनर्गठन की मांग की गई है ताकि अधिकारियों को नौकरी में पदोन्नति के अवसर मिल सकें तथा विभागीय कार्यों के संपादन को गति मिले।

तीसरी मांग के रूप में जिला कार्यक्रम कार्यालय एवं बाल विकास परियोजना कार्यालयों को आवण्टित धनराशि को परिवहन विभाग के समान अनुमन्य करने की मांग रखी गयी ताकि सेवाओं के अनुश्रवण को अधिक प्रभावी बनाया जा सके।

इस मौके पर विभागीय मंत्री श्रीमती आर्य ने कहा कि विभाग महिलाओं तथा बच्चों से जुड़े अतिसंवेदनशील विषय पर कार्य करता है और यह कार्य न सिर्फ महत्वपूर्ण है बल्कि पुण्यात्मक भी है। अधिकारियों की सभी मांगों को नितांत आवश्यक एवं जायज़ मानते हुए वर्तमान वित्तीय वर्ष में पूरा करने हेतु आश्वासन दिया।

उक्त मांगों के संबंध में सचिव सेमवाल ने सहयोग का आश्वासन दिया गया । जनपदों एवं परियोजनाओं से आये अधिकारियों द्वारा कार्यालय भवन न होने की समस्या भी रखी गयी। जिस निष्पादन के लिए मा0 मंत्री जी द्वारा प्रस्ताव प्राप्त करने के निर्देश दिए गए।

दूसरे सत्र में अध्यक्ष श्रीमती अंजू बडोला द्वारा निवर्तमान कार्यकारिणी को कार्यकाल पूर्ण होने पर भंग करने की घोषणा की गई। सभी सदस्यों द्वारा सर्वसहमति से वर्तमान कार्यकारिणी को अगले सत्र के लिए विस्तारित करने का निर्णय लिया गया। अध्यक्ष पद हेतु श्रीमती अंजू बडोला, वरिष्ठ उपाध्यक्ष पद हेतु धर्म वीर सिंह, प्रान्तीय महामंत्री पद हेतु श्री देवेंद्र प्रसाद थपलियाल, उपाध्यक्ष कुमाऊँ मंडल पद हेतु गौरव चंद्र पंत, उपाध्यक्ष गढ़वाल मंडल पद हेतु श्रीमती अंजू डबराल, प्रान्तीय प्रवक्ता पद हेतु श्रीमती नीतू फुलारा, कोषाध्यक्ष पद हेतु श्रीमती तरुणा चमोला एवं हिमांशु बडोला, संप्रेषक पद हेतु संदीप अरोड़ा, संपादक पद हेतु श्रीमती शिखा कंडवाल तथा संरक्षक के रूप में एस. के. सिंह, मुकुल चौधरी, श्री अखिलेश कुमार मिश्र तथा संजय गौरव का सर्वसहमति से चयन किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कोटद्वार में संस्कृत भारती का जनपदीय सम्मेलन

कोटद्वार। जागरूक लोगों को संस्कृत भाषा के संरक्षण