शिक्षक के प्रयास से बेरगणी गांव में बना ग्राम पुस्तकालय

शिक्षक के प्रयास से बेरगणी गांव में बना ग्राम पुस्तकालय

- in खबर, टिहरी
0

थौलधार। एक शिक्षक के प्रयासों से थौलधार ब्लॉक के बेरगणी गांव में पुस्तकालय अस्तित्व में आ गया। इसका संचालन का जिम्मा गांव की दो बेटियों को सौंपा गया है।

गांव में पढ़ाई और जन जागरूकता का माहौल बनाने के लिए शिक्षक लक्षण सिंह रावत की पहल पर ग्राम पुस्तकालय स्थापित किया गया। सोमवार से पुस्तकालय ने काम करना शुरू कर दिया है। इसकी तैयारियां शिक्षक काफी दिन पहले कर चुके थे।

शिक्षक लक्ष्मण सिंह रावत ने बताया कि, पुस्तकालय हेतु किताबों की खरीददारी और जनवरी 2021 में हो चुकी थी, मार्च प्रारम्भ में अलमारियां भी मार्च में ली जा चुकी थी लेकिन विद्यालयी कार्यों की व्यस्तता और फिर कोविड-19 के कारण इसमें कुछ विलम्ब हुआ, फिर भी आखिरकार आज बहुप्रतीक्षित इस पहल को अमलीजामा पहनाते हुए आज ग्राम सभा को समर्पित कर दिया।

पुस्तकालय संचालन की जिम्मेदारी स्वेच्छा से दो बालिकाओं ने ली जो दोनों कक्षा 12 उत्तीर्ण कर चुकी हैं। गाँव मे रहते हुए पुस्तकालय के सम्बंध में निरन्तर संवाद में रहते हुए बच्चों ने भी खुलकर अपनी जिज्ञासा और पृच्छाएँ सामने रखीं उनके मन मे ग्राम पुस्तकालय के सम्बन्ध में कुछ शंकाएं भी थी, जिनका निराकरण करना भी सुखद था।

बच्चों के द्वारा अलग अलग प्रकार की पुस्तकों के सम्बंध में पूछा जाना आश्वस्त करता है कि ये मुहिम जरूर परवान चढ़ेगी और अगले चरण में , एक और पायदान आगे बढ़ पाएंगे। सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य भगवान सिंह रावत ने दीप पूजन के साथ पुस्तकालय का उदघाटन किया।

शिक्षक लक्ष्मण सिंह रावत ने पुस्तकालय की महत्ता पर प्रकाश डाला। विक्रम सिंह रावत, अतर सिंह सजवाण ने बच्चों और अन्य आयु वर्ग के लोगों से पुस्तकालय का लाभ उठाने की अपील की और इसे सुनहरे भविष्य की शुरुआत बताया।

पूर्व प्रधानाचार्य श्री लोहिताक्ष देव थपलियाल ने इस पहल को सराहनीय पहल बताया और इसको प्रचारित प्रसारित करने की बात कही ताकि अन्य गांव के लोग भी इससे प्रेरित होकर इस मुहिम से जुड़ सकें।

उन्होंने सभी से अपील की कि पुस्तकें दान कर पुस्तकालय को समृद्ध करने की बात कही और स्वयं भी ग्राम पुस्तकालय हेतु पुस्तकें देने का आश्वासन भी दिया।उदघाटन के पश्चात सभी लोगों ने पुस्तकालय का अवलोकन भी किया, इस अवसर पर सूक्ष्म जलपान का भी आयोजन किया गया। सभी ने पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया।

इस मौके पर सोहन सिंह रावत, अजययपाल रावत, विनोद रावत,निखिल, युद्धवीर रावत, बिजेंद्र रावत, हरेंद्र भण्डारी, बलवीर सिंह रावत, रणवीर सजवाण, दयाल सिंह,जयेंद्र सिंह रावत, राजेश,अमन, कलम सिंह रावत, मूर्ति रावत, गौरव, नरेंद्र रावत, श्रीमती सन्तोषी देवी, कु0 रुचि रावत, नरेंद्र सिंह रावत, योगेंद्र सिंह रावत, शिवांग रावत, अंकुश भण्डारी, वैष्णवी, आकृति, किट्टू, वैभव, लक्की, शौर्य, आयुष, निकिता,बब्बू, मालती, अर्चना आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

प्रकृति की सत्ता को स्वीकारना होगाः डा. मधु थपलियाल

देहरादून। जलवायु परिवर्तन से तेजी से छीज रही