सरकार! वैक्सीन के लिए युवाओं की ऐसी परीक्षा क्यों ?

सरकार! वैक्सीन के लिए युवाओं की ऐसी परीक्षा क्यों ?

देहरादून। कोरोना वैक्सीन के लिए मोबाइल पर हर दिन घंटों जददोजहद से गुजर रहे युवाओं का धैर्य अब जवाब देने लगा है। युवा व्यवस्था को कोसने लगे हैं।

18-44 आयु वर्ग के लिए वैक्सीन का डोज पाने के लिए सरकार ने अजीबोगरीब व्यवस्था की है। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन तक तो सब कुछ ठीक ठाक था। मगर, स्लॉट बुक के नाम पर इस आयु वर्ग को एक तरह से परीक्षा से गुजरना पड़ रहा है।

घंटों मोबाइल पर चिपकना पड़ रहा है। इसके बाद भी सफलता नहीं मिल पा रही है। 35 से उपर की आयु वर्ग के लिए ये काम खासा मुश्किल हो रहा है। इसमें वो वर्ग भी शामिल है कि अक्सर कोविड डयूटी में भी लगाया जाता रहा है।

ग्रामीण क्षेत्रों में तो और भी मुश्किलें हैं। कुल मिलाकर वैक्सीन के लिए जददोजहद कर रहे युवाओं का धैर्य अब जवाब देने लगा है। युवा सरकार को कोसने लगे हैं। इस मामले में जनप्रतिनिधियों की चुप्पी लोगों को हैरान कर रही है।

प्रभावित वर्ग तमाम सवाल खड़े कर रहा है। वैक्सीन की कमी की बात स्वीकार करते हुए युवाओं का कहना है कि इसके लिए उन्हें मोबाइल पर इंगेज करने की क्या जरूरत। शासन को वैक्सीन की कमी की बात सार्वजनिक करनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कोरोना अपडेटः 515 स्वस्थ हुए, 274 नए मामले और 18 की मौत

देहरादून। राज्य पिछले 24 घंटे में 515 लोग