हाल-ए- शिक्षा विभागः अधिकारी भी कर रहे भजराम हवलदारी

हाल-ए- शिक्षा विभागः अधिकारी भी कर रहे भजराम हवलदारी

- in देहरादून
0

देहरादून। राज्य के स्कूली शिक्षा विभाग में शिक्षक ही नहीं अधिकारी भी भजराम हवलदारी कर रहे हैं। यानि शिक्षक प्रिंसिपल की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं और अधिकारी एक-एक पद उपर का प्रभार संभाले हुए हैं।

स्कूली शिक्षा विभाग का टॉप पद डीजी एजुकेशन शिक्षा सेवा के अधिकारियों से छीन चुका है। ये पद आईएएस के हवाले है। निदेशक के बाद के शिक्षा सेवा के अधिकारियों के पद पर समयबद्ध प्रमोशन नहीं हो पा रहे हैं।

इससे राज्य की शिक्षा व्यवस्था प्रभावित हो रही हैं। ये बात अलग है कि सरकार का काम चल रहा है। इसकी शुरूआत होती है स्कूलों से अधिकांश स्कूलों में हेडमास्टर/ प्रिंसिपल नहीं हैं। ये पद शिक्षक संभाले हुए हैं। इससे स्कूलों की व्यवस्था पटरी से उतरी हुई है। आशातीत परिणाम नहीं मिल रहे हैं।

ये बात अलग है कि सरकार ऑल इज वेल गुनगुना रही है। यही स्थिति अधिकारियों की भी है। अपर निदेशक के 10 पद रिक्त हैं। एडी के अधिकांश पद संयुक्त निदेशक संभाल रहे हैं। उक्त पदों की जिम्मेदारी निभाने वाले अधिकारी संबंधित पद की आर्हता भी रखते हैं। मगर, शासन के स्तर से प्रॉपर प्रमोशन नहीं मिल पा रहा है।

यही स्थिति उपनिदेशक से संयुक्त निदेशक पद पर प्रमोशन की भी है। बीईओ से उपनिदेशक बनने को अधिकारी तरस रहे हैं। स्कूलों के प्रिंसिपल यहां से आगे बढ़ने की सोच भी नहीं पा रहे है। कामचलाउ व्यवस्था में भी जाने-अनजाने कई झोल दिख रहे हैं।

इस संबंध में राज्य स्कूली शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय से सरकार का पक्ष जानने के काफी प्रयास किए गए। उनके और उनके स्टॉफ के उपलब्ध मोबाइल नंबर से संपर्क किया गया। 10 मिनट में बात कराने का भरोसा मिला। मगर, बात नहीं हो सकी।

अधिकारियों के प्रमोशन पर सरकार का पक्ष मिलते ही प्रमुखता से प्रकाशित किया जाएगा।

यह भी पढ़ेः कोविड-19 में लगे एकेश्वर ब्लॉक के शिक्षक परेशान

यह भी पढ़ेः राज्य को खाला का घर नहीं बनने देगा उक्रांद: पंवार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कोरोना मीटरःउत्तराखंड में 24 घंटे में 764 नए मामले

देहरादून। उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे में कोरोना