सीएम से मिले परिवहन व्यावसायी, वाहनों की आयु दो वर्ष बढ़ाने की मांग

सीएम से मिले परिवहन व्यावसायी, वाहनों की आयु दो वर्ष बढ़ाने की मांग

- in देहरादून
0

देहरादून। राज्य में कॉमर्शियल वाहनों की आयु सीमा दो साल बढ़ाने की मांगों को लेकर परिवहन व्यावसायियों के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री से मुलाकात की।

रविवार को परिवहन महासंघ के प्रतिनिधिमंडल ने प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से उनके शासकीय आवास में मुलाकात कर उन्हें परिवहन व्यवसायियों की मांगों को लेकर मांग पत्र सौंपा और मौजूदा परिस्थितियों से अवगत कराया।

इस अवसर पर महासंघ अध्यक्ष सुधीर राय ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि वर्तमान कोरोना काल में प्रदेश के परिवहन व्यवसायियों की आर्थिक स्थिति चरमरा गई है जहां एक और चालक परिचालकों को अपने परिवार के भरण-पोषण करना मुश्किल हो गया है वहीं दूसरी और वाहनों का संचालन ना होने की स्थिति में वाहन स्वामी द्वारा वाहनों का टैक्स बीमा एवं अन्य खर्चा उठाने की स्थिति में नहीं हैं।

अतः उत्तराखंड प्रदेश के परिवहन व्यवसाय को पुनर्जीवित करने हेतु चालक परिचालकों को 15000 आर्थिक सहायता देने के साथ ही वाहन स्वामियों का दो वर्ष का टैक्स माफ किया जाना नितांत आवश्यक है। ताकि व्यावसाय में जान आ सकें।

इसके साथ ही महासंघ अध्यक्ष सुधीर राय ने मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया कि वर्तमान कोरोना काल में किसी भी व्यवसायिक वाहनों का संचालन नहीं हो पाया है जिस कारण वर्ष 2020 परिवहन के हिसाब से शून्य की ओर जाता प्रतीत होता है अतः सरकार को चाहिए कि ऐसी विषम परिस्थिति में उत्तराखंड प्रदेश के समस्त व्यवसायिक वाहनों की आयु सीमा कम से कम दो वर्ष बढ़ा दी जाए।

इस अवसर पर उत्तराखंड विक्रम टेम्पोमहासंघ अध्यक्ष महंत विनय सारस्वत ने माननीय मुख्यमंत्री जी से अनुरोध किया कि प्रदेश की चार धाम यात्रा विश्व प्रसिद्ध यात्रा है। कोरोना के कारण श्रद्धालुओं को दर्शन पर रोक है। क्योंकि अब प्रदेश की स्थिति बेहतर है तो परिवहन व्यवसायियों एवं पर्यटन व्यवसायियों के हितों को देखते हुए प्रदेश की चार धाम यात्रा का संचालन होना भी नितांत आवश्यक है इससे पर्यटन एवं होटल कारोबारियों को भी लाभ मिलेगा।

प्रतिनिधिमंडल ने दावा किया कि मांग पत्र को न्याय उचित मानते हुए मुख्यमंत्री जी द्वारा उत्तराखंड प्रदेश के समस्त व्यवसायिक वाहनों की आयु सीमा दो वर्ष बढ़ाए जाने पर सहमति जताई। साथ ही अन्य मांगों पर माननीय मुख्यमंत्री जी ने गंभीरता से विचार कर आश्वासन देतेहुएकहा कि परिवहन व्यवसायियों के साथही उत्तराखंड प्रदेश के हित में शीघ्र ही निर्णय लिए जाएंगे।

प्रतिनिधिमंडल में उत्तराखंड परिवहन अध्यक्ष सुधीर राय के अलावा पूर्व राज्य मंत्री संदीप गुप्ता जी विक्रम टेंपो अध्यक्ष उत्तराखंड महंत विनय सारस्वत जी एवं यातायात पर्यटन विकास सहकारी संघ के उपाध्यक्ष नवीन चंद रमोला जी शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

शिक्षक संगठनों में अब पहले जैसी बात नहीं

देहरादून। शिक्षक संगठनों में अब पहले जैसी बात