तपोवन से टैक्स भरपूर और सुविधाएं शून्य

तपोवन से टैक्स भरपूर और सुविधाएं शून्य

- in ऋषिकेश
0

ऋषिकेश। पर्यटन ग्राम, तपोवन से सरकार को टैक्स तो भरपूर मिलता है। मगर, सुविधाएं पूरी तरह से शून्य हैं। होटल एसोसिएशन और आम लोग अब इस पर सवाल खड़े करने लगे हैं।

तपोवन सरकार को बना बनाया पर्यटन ग्राम के रूप में मिला। स्थानीय लोग, होटल, रेस्टोरेंट, रिवर राफ्टिंग व्यावसायी तपोवन को सालों पहले देश/प्रदेश के पर्यटन नक्शे पर स्थापित कर चुके थे। अब यहां पर आधारिक जल सुविधाएं जुटाकर इसे और बेहतर किया जाना था। मगर, सरकार के स्तर से ऐसा नहीं किया गया।

कुल मिलाकर तपोवन से सरकार को विभिन्न मददों में टैक्स तो भरपूर मिलता है। मगर, सुविधाएं शून्य हैं। सड़कों का बुरा हाल है। अन्य जन सुविधाएं भी ना के बराबर हैं। जबकि विदेशी पर्यटकों का यहां सबसे अधिक मूवमेंट है।

देश के विभिन्न राज्यों से बड़ी संख्या में पर्यटक यहां आते हैं। अच्छी सड़कें और सुविधाओं देकर उक्त पर्यटकों के माध्यम से अच्छा प्रचार भी मिल सकता है। मगर, ऐसा हो नहीं पा रहा है। दरअसल, सरकार का ध्यान नगरों तक ही सीमित है। नगर जैसा स्वरूप ले चुका तपोवन सरकार की प्राथमिकता में नहीं आ पा रहा है। जबकि तपोवन व्यापक स्तर पर राज्य के पर्यटन का प्रतिनिधित्व करता है।

इसको लेकर होटल एसोसिएशन और स्थानीय लोगों ने अब आवाज उठानी शुरू कर दी है। सवाल उठ रहे हैं कि आखिर पर्यटन ग्राम को सरकार ने भगवान भरोसे क्यों छोड़ दिया है। क्यों यहां पर्यटकों की संख्या के मददेनजर सुविधाएं मुहैया नहीं कराई जा रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बीईओ ने लगाई शिक्षकों की कोविड डयूटी, सीईओ ने कहा अभी जरूरत नहीं

नरेंद्रनगर। खंड शिक्षाधिकारी ने बड़ी संख्या में शिक्षकों