श्राइन एक्ट की खिलाफत को प्रस्तावित महासम्मेलन स्थगित

श्राइन एक्ट की खिलाफत को प्रस्तावित महासम्मेलन स्थगित

- in धर्म-तीर्थ
0

ऋषिकेश। देश के संत महात्माओं के माघ में व्यस्त होने से तीन फरवरी को हरिद्वार में देवस्थानम विधेयक के विरोध में प्रस्तावित महासम्मेलन स्थगित कर दिया गया है। जल्द ही महासम्मेलन की नई तिथि घोषित की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि उत्तराखंड की भाजपा सरकार ने चारधाम समेत 51 मंदिरों पर देवस्थानम विधेयक नाम से श्राइन एक्ट लागू कर दिया है। इसकी देश भर में धर्मानुरागी निंदा कर रहे हैं। देवभूमि चारधाम तीर्थ पुरोहित हक हकूकधारी महापंचायत इसके खिलाफ आंदोलन कर रहा है।

सांसद सुब्रमण्यम स्वामी एक्ट की खिलाफत कर तीर्थ पुरोहितों को मदद का भरोसा दे चुके हैं। प्रणीण भाई तोगड़िया भी खुलकर इसके विरोध में उतर आए हैं। हिन्दुओं के तीर्थों के लिए भाजपा सरकार के इस रूख को देश भर के लोगों को अवगत कराने के लिए तीन फरवरी को हरिद्वार में महासम्मेलन प्रस्तावित था।

अधिकांश संत महात्माओं के इस इस तिथि पर व्यस्त होने की वजह से देवभूमि चारधाम तीर्थ पुरोहित हक हकूकधारी महापंचायत ने इसे स्थगित कर दी है। जल्द ही महासम्मेलन की नई तिथि घोषित की जाएगी। देवभूमि चारधाम तीर्थ पुरोहित हक हकूकधारी महापंचायत के अध्यक्ष कृष्ण कांत कोटियाल ने इसकी पुष्टि की।

कोटियाल ने बताया कि जल्द महासम्मेलन की नई तिथि घोषित की जाएगी। उन्होंने दावा किया कि राज्य के लोग श्राइन एक्ट के खिलाफ हैं। इस मौके पर महापंचायत के महामंत्री हरीश डिमरी, कोषाध्यक्ष लक्ष्मी नारायण जुगडाण, विनोद कोटियाल, विनोद डिमरी, नरेशानंद सती, दिनेश सती, उदय टोडरिया, श्यामलाल पंचपुरी आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कोरोना मीटरः 24 घंटे में 221 नए मामले, नौ की मौत और 319 ठीक हुए

देहरादून। उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे में कोरोना