स्कूलों के एकीकरण में न हो आरटीई मानकों की अनदेखीः रावत

स्कूलों के एकीकरण में न हो आरटीई मानकों की अनदेखीः रावत

- in टिहरी
0

नरेंद्रनगर। प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों के एकीकरण में आरटीई मानकों की अनदेखी न हो। इसके अलावा एकीकरण से पहले शिक्षकों की सेवा शर्तों से संबंधित मसलों पर भी गौर किया जाए।

ये कहना है राजकीय जूनियर हाई स्कूल शिक्षक संघ के ब्लॉक अध्यक्ष जगमोहन सिंह रावत का। उन्होंने कहा शासन स्कूलों के एकीकरण की तैयारी कर रहा है। इसके लिए समिति का गठन कर दिया गया है। एक माह में रिपोर्ट आने की बात कही जा रही है।

शिक्षक नेता जगमोहन सिंह रावत ने कहा कि एकीकरण में आरटीई मानकों की अनदेखी न की जाए। खासकार प्राथमिक और जूनियर हाई स्कूलों की दूरी से संबंधित मानक अहम है। इसके अलावा एकीकरण से पैदा होने वाल पेचदगियों को पहले सुलझा लिया जाए।

इसमें शिक्षकों की सेवा शर्त और प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों की प्रशासनिक इकाई के मामले प्रमुख रूप से शामिल हैं। राजकीय जूनियर हाई स्कूल शिक्षक संघ के ब्लॉक अध्यक्ष रावत ने सरकार से मांग की कि स्कूलों के एकीकरण में जल्दबाजी न की जाए। पहले इससे पैदा होने वाली पेचदगियों को सुलझाया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कोटद्वार में संस्कृत भारती का जनपदीय सम्मेलन

कोटद्वार। जागरूक लोगों को संस्कृत भाषा के संरक्षण