पीठासीन अधिकारियों के लिए जी का जंजाल बना पीडीएमएस

पीठासीन अधिकारियों के लिए जी का जंजाल बना पीडीएमएस

- in देहरादून
0

देहरादून। आम चुनाव 2019 में पीठासीन अधिकारी का जिम्मा संभालने वाले कार्मिकों के लिए पीडीएमएस (पोलिंग डे मॉनिटरिंग सिस्टम) जी का जंजाल साबित हुआ।

दरअसल, पीठासीन अधिकारी को मतदान के हर घंटे की रिपोर्ट मोबाइल के माध्यम से मैसेज करनी थी। सभी पीठासीन अधिकारियों ने ऐसा किया भी। मगर, जब गुरूवार देर शाम पीठासीन अधिकारी और टीम ईवीएम समेत अन्य कागजात जाम करने पहुंचे तो उन्हें फिर से पीडीएमएस में उलझना पड़ा।

दरअसल, स्ट्रांग रूम में तैनात अधिकारियों ने पीठासीन अधिकारियों को कहना शुरू कर दिया कि उनके मैसेज नहीं मिले। जबकि पीठासीन अधिकारी संबंधित अधिकारियों को अपना फोन दिखाते रहे। जिसमे मैसेज प्रॉपर सेंड होना दिख रहा है।

कई दिनों से थके कर्मियों को अधिकारियों के इस रूख से खासी परेशानियों का सामना करना पड़ा। एक पीठासीन अधिकारी ने नाम न छापने की शत पर बताया कि अधिकारियों का रवैया ठीक नहीं था। यही नहीं तकनीकी में हुई चूक के लिए कार्मिकों को जिम्मेदार ठहराया जा रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पुरानी पेंशन की मांग पर क्यों नहीं पसीज रही सरकारें

पौड़ी। आखिर देश की तमाम राज्य सरकारें और