खुशखबरीः हेरिटेज स्ट्रीट के रूप में विकसित होगा पौड़ी बाजार

खुशखबरीः हेरिटेज स्ट्रीट के रूप में विकसित होगा पौड़ी बाजार

- in पौड़ी
0

पौड़ी। पौड़ी को पर्यटन से जोड़ने की गरज से पौड़ी नगर के अपर बाजार को हेरिटेज स्ट्रीट के रूप में विकसित करने की तैयारी है। जिलाधिकारी के स्तर से जनपद की बेहतरी के लिए हो रहे अभिनव प्रयोगों की खूब सराहना हो रही है।

जिलाधिकारी धीराज गर्ब्याल राज्य के पर्यटन नक्शे पर पौड़ी को स्थापित करने के लिए जी जान से जुटे हैं। जिलाधिकारी के प्रयासों से अच्छा माहौल भी इसके लिए बना है। कुछ क्षेत्रों में धरातलीय प्रयास भी दिख रहे हैं।

अब जिलाधिकारी गर्ब्याल पौड़ी नगर के अपर बाजार को हेरिटेज स्ट्रीट के रूप में विकसित करने की तैयारी कर रहे हैं। गुरूवार को संबंध में बैठक की। व्यापार मण्डल के पदाधिकारी, स्थानीय व्यापारी एवं संबंधित अधिकारियों के साथ जनपद में पर्यटन को बढ़ावा देने हेतु जिलाधिकारी के एक के बाद एक अभिनव कार्य सराहना की।

आर्किटेक रक्षित पांडे ने अपर बाजार में बनाये जाने वाले हेरिटेज स्ट्रीट के डिजाईन का अवलोकन कराने हुए होने वाले कार्यो की विस्तृत जानकारी दी। जिलाधिकारी ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के प्रस्तावित भ्रमण के दौरान हेरिटेज स्ट्रीट के विकास कार्य का भी शिलान्यास किया जायेगा।

जिलाधिकारी ने कहा कि पौड़ी शहर को पर्यटन के क्षेत्र में प्रदेश ही नहीं देश व दुनिया में अलग पहचान बनाने हेतु कार्य किया जा रहा है। जल्द ही अब अपर बाजार को हेरिटेज स्ट्रीट के रूप में विकसित किया जायेगा।

जल्द ही टूरिज्म की जितनी योजनाएं हैं उन्हें लॉच करवाया जायेगा। कहा कि सीएम घोषणा के तहत मॉल रोड़ का शिलान्यास, हेरिटेज स्ट्रीट का शिलान्यास किया जायेगा। कहा कि हेरिटेज स्ट्रीट पूरे इण्डिया में एक अलग ही स्ट्रीट के रूप में देखने को मिलेगी।

काम शुरू हो चुका है और प्रथम चरण में 05 करोड़ की योजना है, जिसमें जिला योजना, डेवल्पमेंट ऑथरिटी व नगर पालिका से धनराशि व्यय किया जायेगा, जिसके लिए जिला योजना से लगभग 02 करोड़ जारी किया गया है। शीघ्र ही कार्य भी शुरू हो जायेगा। पुरानी जेल को भी म्यूजियम व हाट बाजार के रूप में पुराने आर्किटेक्ट को ध्यान में रखते हुए विकसित करने की योजना बनाई गई है।

उन्होंने कहा कि नये कलेक्ट्रेट भवन में वाहन पार्किंग, लोगों के बैठने के लिए गार्डन बनाने की कार्य योजना/डिजाईन तैयार किया गया है। वहीं पुराने कलेक्ट्रेट भवन को रिस्टोर करने की योजना है, वह भी एक हेरिटेज बिल्डिंग होगी।

कहा कि चौथे चरण में धारा रोड़ को भी अपर बाजार की तर्ज पर हेरिटेज रोड़ के रूप में विकसित करने की योजना है। शहर को अलग पहचान दिलाने के लिए जितनी भी रोड़ हैं, उनमें अलग-अलग रूप में विकसित किया जायेगा, जैसे कि टेका रोड़ को चैरी ब्लासम लेन के रूप में, देवप्रयाग रोड़ को मेपल रोड़ के रूप में विकसित कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि पुराने कलेक्ट्रेट भवन को रिस्टोर करने, नये कलेक्ट्रेट भवन में 40 छोटे वाहन पार्किंग, सिटिंग पार्किंग एवं फूड पार्किंग आदि नये-नये कार्य किये जाने की प्लानिंग की जा रही है। कहा कि सड़क के दोनो ओर वुडन आर्ट वर्क लकड़ी की रैलिंग और भवनों के बाहर आगे की ओर पटाल व ग्रेनाइट लगाई जायेगी। साथ ही स्ट्रीट लाइट लगाने, दुकानों के नाम लकड़ी के बोर्ड पर अंकित करने, बिजली, पानी व सीवर लाइन अंडरग्राउंड किये जाने की योजना है।

कहा कि लीग से हटकर पारम्परिक शैली में निर्माण कार्य करने से टूरिस्ट आकर्षित होगा और पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा तथा स्थानीय स्तर पर आर्थिकी बढ़ेगी। रामलीला ग्रांउड के पास ओपन व्यू बनाया जायेगा, जिससे हिमालय के दर्शन होगें।

इस अवसर पर उपजिलाधिकारी एस.एस.राणा, जिला पर्यटन अधिकारी खुशाल सिंह नेगी, अधि.अधि.नगरपालिका पौड़ी प्रदीप बिष्ट, अध्यक्ष व्यापार मण्डल पौड़ी देवेन्द्र रावत, सचिव अनूप देवरानी, कोषाध्यक्ष कुलदीप गुसांई सहित स्थानीय व्यापारी एवं संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

डाल्फिन इंस्टीटयूट में लैंगिक समानता पर कार्यशाला

देहरादून। महिलाएं गरिमा के साथ आगे बढ़कर देश