परमार्थ निकेतन की आरती को चिंतित तीन जिलों की पुलिस

परमार्थ निकेतन की आरती को चिंतित तीन जिलों की पुलिस

ऋषिकेश। परमार्थ निकेतन में सत्ताधीशों का मूवमेंट असर दिखाने लगा है। यहां होने वाली गंगा आरती में कोई खलल न पड़े इसके लिए तीन जिलों की पुलिस चिंतित हो चली है।

पौड़ी, टिहरी और देहरादून की पुलिस ने सोमवार को व्यापारियों और जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक की। बैठक में ये ऐलान किया गया कि शाम छह बजे से नौ बजे रात तक रामझला पर दुपहिया वाहनों की आवाजाही प्रतिबंधित होगी।

ऐसा निर्णय परमार्थ निकेतन में होने वाली गंगा आरती की वजह से लिया गया है। सवाल उठ रहा है कि आखिर तीन जिलों की पुलिस इस आरती के लिए इतनी चिंतित क्यां हो रही है। इसको लेकर तमाम सवाल खड़े हो रहे हैं।

खास बात ये है कि मुनिकीरेती के श़त्रुघ्न घाट और ऋषिकेश के त्रिवेणी घाट पर अब अच्छी गंगा आरती से परमार्थ की गंगा आरती में अपले से कम भीड़ जुट रही है। बावजूद तीन जिलों की पुलिस की चिंता हैरान करने वाली है।

बहरहाल, पुलिस के इस निर्णय से होने वाली परेशानी सिर्फ स्थानीय लोगों के हिस्से आएगी। कारण छह बजे के बाद पर्यटकां की आवाजाही बेहद कम हो जाती है। जबकि स्थानीय लोगों का मूवमेंट बढ़ता है।

इसके अलावा बैठक में सड़कों पर पसरे अतिक्रमण को हटाने, आवारा पशुओं को मुख्य मार्ग में न आने देने जैसे निर्णय भी लिए गए। बैठक में नरेंद्रनगर के सीओ जेपी जुयाल, यमकेश्वर के सीओ जोधाराम जोशी और ऋषिकेश के सीओ वीरेंद्र सिंह रावत मौजूद थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

शिक्षकों के तबादला प्रकरणों के निस्तारण को बनेगा प्रकोष्ठ

देहरादून। शिक्षकों के तबादले से संबंधित प्रकरणों के