अब नदी के तटों से भी हटेगा अतिक्रमण

अब नदी के तटों से भी हटेगा अतिक्रमण

- in नैनीताल
0

नैनीताल। नदी, नालों, खालों के किनारे हुए अतिक्रमण को हटाया जाएगा। इसके लिए जिला प्रशासन को तीन माह का समय दिया गया है।

सड़कों और सार्वजनिक स्थलों पर हुए अतिक्रमण पर कड़ा रूख अख्तियार करने के बाद नैनीताल हाईकोर्ट ने अब नदी, नालों, खालों के किनारों पर हुए अतिक्रमण का संज्ञान लिया है। एक याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट के न्यामूर्ति राजीव शर्मा और न्यायमूर्ति शरद शर्मा ने कड़ा फरमान जारी किया है।

कोर्ट ने प्रदेश के सभी जिलों के जिलाधिकारियों को निर्देशित किया है कि नदी, नालों, खालों के किनारे को तीन माह के भीतर अतिक्रमण से मुक्त कराएं। कोर्ट के इस फरमान से गंगा समेत अन्य नदियों के तटों पर जमें लोगों में हड़कंप है।

अब देखने वाली बात ये होगी कि जिला प्रशासन इस दिशा में क्या कदम उठाता है। प्रदेश के नदी, नालों के किनारों को कब्जाने की होड़ सी मची है। इस होड़ में रसूखदार लोग भी शामिल हैं। तमाम राजनीतिक दबाव की वजह से प्रशासन इस पर गौर करने तक की जरूरत महसूस नहीं करता। परिणाम नदी के तटों पर स्थिति भयावह हो गई है।

ऋषिकेश समेते आस-पास के क्षेत्र. में रिहायशी क्षेत्र बिलकुल गंगा से सट गया है। यहां एक्टिव फ्लड जोन का मानक भी बेमानी साबित हो रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

विधायक चैंपियन की गुंडई पर क्यों चुप है सरकारः गरिमा दसौनी

देहरादून। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की सदस्य एवं