प्रमोशन से वंचित एलटी शिक्षक कोर्ट जाने की तैयारी में

प्रमोशन से वंचित एलटी शिक्षक कोर्ट जाने की तैयारी में

नैनीताल। एलटी से प्रवक्ता पद पर होने वाले प्रमोशन सवालों के घेरे में हैं। पुख्ता सवालों/प्रमाणों के साथ प्रभावित शिक्षक कोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं।

राजकीय सेवा में प्रमोशन के लिए वरिष्ठता और सर्विस रिकॉर्ड को आधार बनाया जाता है। स्कूली शिक्षा विभाग में शिक्षकों के प्रमोशन में वरिष्ठता नजरदांज की जा रही है। जी हां, एलटी से प्रवक्ता पद पर प्रमोशन इस बात का प्रमाण है।

इसमें कुछ विषयों के एलटी शिक्षक पांच साल में ही प्रवक्ता पद पर प्रमोट हो जा रहे हैं। जबकि कुछ विषय के शिक्षकों को 20 साल में भी प्रमोशन नहीं मिल पा रहा है। विवाद से बचने के लिए विभाग इसे विषय लाभ बताकर पल्ला झाड़ रहा है। जबकि ये इतना सच नहीं है।

हकीकत ये है कि शिक्षा विभाग में समय-समय पर विभिन्न स्रोतों से हुई शिक्षकों की नियुक्तियों ने पदों की संख्या में जबरदस्त अंतर पैदा कर दिया है। आयोग की परिधी वाले प्रवक्ता के पद को इत्तर तरीके से भरना इस बात का प्रमाण भी है।

अब इससे प्रभावित एलटी शिक्षकों ने तमाम पुख्ता सवालों के साथ कोर्ट का दरवाजा खटखटाने का निर्णय लिया है। देश के कुछ राज्यों में ऐसे मामलों में आए निर्णयों का भी उक्त शिक्षकों ने संज्ञान लिया है। अब यदि ऐसा होता है तो शिक्षा विभाग में बड़ा विवाद होना तय माना जा रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

प्रकृति की सत्ता को स्वीकारना होगाः डा. मधु थपलियाल

देहरादून। जलवायु परिवर्तन से तेजी से छीज रही