उद्यमिता और स्वरोजगार से अच्छी आमदनी संभवः डा. सजवाण

उद्यमिता और स्वरोजगार से अच्छी आमदनी संभवः डा. सजवाण
Spread the love

देहरादून। उद्यमिता और स्वरोजगार को अपनाकर महिलाएं आर्थिक तौर पर स्वावलंबी बन सकती है। स्वरोजगार के क्षेत्र में खासा पोटेंशियल है।

ये कहना है कि उद्योग विभाग के उपनिदेशक डा. महावीर सिंह सजवाण का। सजवाण शुक्रवार को गवर्नमेंट पीजी कॉलेज, मालदेवता, रायपुर के बैनर तले उन्नत भारत अभियान के तहत ग्राम सभा थेवा में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड और भारत सरकार की तमाम योजनाएं जों महिलाओं को स्वरोजगार में मदद करती है।

बताया कि उद्योग विभाग हिमाद्री आउटलेट के जरिए प्रदेश के तमाम आर्टीजन अपने हुनर को शोकेश कर सकते हैं। उन्होनें उद्योग विभाग की तमाम अन्य योजनाओं के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी। कहा कि कॉलेज के साथ मिलकर उद्योग विभाग ग्रामीणों को स्वरोजगार हेतु प्रशिक्षण देगा। कॉलेज के प्रिंसिपल प्रो. सतपाल सिंह सहानी ने बताया कि कॉलेज के स्तर से समाज की बेहतरी को तमाम कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं।

कर्यक्रम की समन्वयक डा. मधु थपलियाल ने उन्नत भारत अभियान द्वारा गोद लिए गए पांच गांव बछेत, सेरकी, थेवा, खेत मे कॉलेज द्वारा बहुत की सशक्त रूप् से कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं।

डा. मधु थपलियाल के द्वारा थेवा गांव की बुजुर्ग महिला रमा सजवाण द्वारा चलाया जा रहा पाईन रेस्टोरेंट की तारीफ की। ग्राम सभा थेवा की प्रधान श्रीमती सुनिता क्षेत्री के उन्नत भारत अभियान की टीम तथा प्राचार्य का धन्यवाद अदा किया कि महाविद्यालय उनके गांव आकर लोगों में स्वरोजगार के प्रति जागरूकता फैला रहे हैं।

उन्नत भारत अभियान की स्वयंसेवी छा़ा आरती राठौर ने ग्रामीणों को मशरूम से आजीविका के बारे में जानकारी दी। संचालन डा़ श्रुति चौकियाल ने किया। इस मौके पर श्रीमती कामला, रामेश्वरी, संगीता, उपप्रधान सतेंद्र, ग्रामीण समूह की अध्यक्ष लक्ष्मी भटट, ंवर्षा, निकिता, खिलाफसिंह, शिवांसी, आरती, दिप्ती आदि मौजूद थे।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.