फंसे लोगों को घरों तक पहुंचाने को तेज हुए सरकार के प्रयास

फंसे लोगों को घरों तक पहुंचाने को तेज हुए सरकार के प्रयास


उत्तरकाशी। वैश्विक महामारी कोविड-19 के चलते देशव्यापी लॉकडाउन के चलते देश के विभिन्न राज्यों में फंसे उत्तराखंड के प्रवासियों को घरों तक पहुंचाने के लिए राज्य सरकार ने प्रयास तेज कर दिए हैं।

हर दिन देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे लोगों का अपने घरों का पहुंचने का क्रम शुरू हो गया है। अध्यक्ष जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण/ जिला मजिस्ट्रेट डॉ आशीष चौहान ने बताया कि दिल्ली में फंसे उत्तरकाशी के 129 प्रवासी सरकारी बसों के द्वारा चिन्यालीसौड़ पहुंच गए है।
जहाँ डॉक्टरों के द्वारा उनकी गहनता से स्वास्थ्य परीक्षण व स्क्रिनिंग की गई है।

किसी भी प्रवासी में कोरोना वायरस के लक्षण नहीं पाए गये। एतिहात के रूप में 9 व्यक्तियों को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है जबकि तहसील भटवाड़ी,डुंडा व चिन्यालीसौड़ के 120 प्रवासियों को उनके गंतव्य के लिए रवाना किया गया।

सभी प्रवासी आंगनबाड़ी कार्यकत्री, आशा,ग्राम विकास अधिकारी की निगरानी में 14 दिन तक पंचायत/विद्यालय क्वारन्टीन में अनिवार्य रूप से रहेंगे। तथा क्वॉरेंटाइन एवं सामाजिक दूरी के नियमों का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करेंगे। चेक पोस्ट चिन्यालीसौड़ में आगंतुकों को प्रशासन द्वारा जलपान इत्यादि की भी व्यवस्था की गई है।

दिल्ली से जनपद उत्तरकाशी सकुशल पहुंचे प्रवासी मानवी,सरोज कैंतुरा व सुबिन परमार ने प्रदेश के मुख्यमंत्री व जिला प्रशासन का आभार प्रकट किया। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा हमे दिल्ली से बसों के द्वारा निःशुल्क लाया गया तथा खाने-पीने की उचित व्यवस्था की गई हमें कहीं पर भी कोई परेशानी नही हुई ।’

इस दौरान उप जिलाधिकारी आकाश जोशी, ओसी/ डिप्टी कलेक्टर चतर सिंह चौहान, अधिशासी अभियंता लोनिवि सुरेश तोमर सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में चार और कोरोना संक्रमित, 67 हुई संख्या

यह भी पढ़ें: पौड़ी के कंडोलिया जंगल में हौले हौले उतर रहा इक अधूरा ख्वाब

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

परियोजनाओं के क्रियान्वयन में तेजी लाने के निर्देश

देहरादून। वाह्य सहायतित परियोजनाओं के अंतर्गत संचालित परियोजनाओं