डाटा कंप्यूटर में फाइनेंसियल लिटरेसी प्रोग्राम

डाटा कंप्यूटर में फाइनेंसियल लिटरेसी प्रोग्राम

- in ऋषिकेश
0

ऋषिकेश। आज के दौर में हर व्यक्ति के लिए वित्तीय साक्षरता जरूरी है। इसके बिना आर्थिक प्रबंधन मुश्किल है।

ये कहना आर्थिक जगत के जानकारों का। सिक्यूरिट एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया, सेबी और द इंस्टीटयूट ऑफ कंप्यूटर अकाउंटेंट एंड डाटा कंप्यूटर्स के संयुक्त तत्वावधान में फाइनेंसियल लिटरेसी के तहत आयोजित कार्यक्रम में छात्रों को तमाम जानकारियां दी गई।

स्ेबी से आए एमए शिनोद ने सेबी के कार्य के बारे में जानकारी दी। बताया कि भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड, सेबी किस प्रकार से निवेशकों के हितों की रक्षा करता है। नियमों के बारे में भी जानकारी दी। उन्होंने म्यूचल फंड में निवेश को सुरक्षित बताया। कहा कि इसकी शुरूआत न्यूनतम राशि से करनी चाहिए।

जितेंद्र नौटियाल ने छात्रों को शेयर बाजार के बारे में जानकारी दी। बताया कि अच्छे शेयर का चयन किस आधार पर किया जाना चाहिए। द इंस्टीटयूट ऑफ कंप्यूटर अकाउंटेंट एंड डाटा कंप्यूटर्स के निदेशक मुकेश अग्रवाल ने छात्रों को वित्तीय निवेश के साथ ही आज के दौर में अर्थ जगत के बारे में जानकारी की महत्ता बताई।

साथ ही अल्प बचत के महत्व पर प्रकाश डाला। अस मौके पर सौरभ हर्षवाल, केशव गुप्ता, जिज्ञासा शर्मा, श्वेता गौर, दिवाकर मिश्रा, शिवांगी जयसवाल, अनिल पोखरियाल, अभिषेक, संजीव सेमवाल, राखी कोटियाल, खुशबू विश्नोई, आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

विधायक चैंपियन की गुंडई पर क्यों चुप है सरकारः गरिमा दसौनी

देहरादून। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की सदस्य एवं