मेडिकल एथिक्स के दायरे में काम करें डाक्टर्स

मेडिकल एथिक्स के दायरे में काम करें डाक्टर्स

doctorडॉक्टर्स मेडिकल एथिक्स के दायरे में रहकर काम करें। ताकि किसी भी प्रकार के आरोप प्रत्यारोपों से बचा जा सकें और पूरा अटेंशन जन सेवा में लगाया जा सकें।
ये कहना है इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के राज्य पदाधिकारियों का। आईएमए की ऋषिकेश शाखा के बैनर तले आयोजित राज्य स्तरीय संगोष्ठी में प्रदेश भर के डॉक्टर्स ने शिरकत की। संगोष्ठी में चिकित्सकीय पेशे की मौजूदा चुनौतियों पर चर्चा की गई।

इस मौके पर आईएमए के प्रदेश अध्यक्ष डा. आरएन सिंघल ने कहा कि डाक्टर्स को अपने कर्तव्यों का निर्वाहन सूझबुझ के साथ करना चाहिए। साथ ही एक एक काम मेडिकल एथिक्स के दायरे में रहकर किया जाना चाहिए।

सचिव डा. डीडी चौधरी ने आईएमए के स्तर से गत वर्ष किए गए कार्यों को ब्योरा रखा। साथ ही उन्होंने डाक्टर्स का आगाह किया कि वो किस भी गलत कार्य से स्वयं को अलग रखें। मेडिकल सर्टिफिकेट जारी करते समय एक प्रति अपने पास जरूर रखें।

उन्होंने कहा कि डाक्टर्स और हॉस्पिटल पर हमला किसी भी सूरत में बर्दास्त नहीं किया जाएगा। इस मौके पर विभिन्न जिलों से आए चिकित्सकों को बेहतर कार्य के लिए पुरस्कृत किया गया।

इससे पूर्व क्षेत्रीय विधायक प्रेमचंद अग्रवाल ने बतौर मुख्य अतिथि कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस संगोष्ठी के पहले सत्र में चिकित्सकीय पेशे की मौजूदा चुनौतियों के साथ नई खोजों पर चर्चा की गई।

इसमें मदांता हॉस्पिटल के डा. ए. स्वान, डा. ऋतु प्रसाद, डा. एके सिंह, डा. कृष्ण अवतार आदि ने विचार रखे। इस मौके पर डा. हरिओम प्रसाद, डा. राजेंद्र गर्ग, डा. आरके भारद्वाज, डा. एसडी उनियाल, डा. सावित्री उनियाल, डा. यूपी गुप्ता, डा. यूपी सिंह, डा. आरएस पुरी, डा. मनोज बहुखंडी, डा. सोनम, डा. सीमा सक्सेना, डा. विजय, डा. पूनम जोशी, डा. विनाद, डा. विनीता पुरी, डा. हरीश द्विवेदी, डा. गीतिका द्विवेदी, डा. रोहित, डा. निधि उपाध्याय,डा. अमित अग्रवाल, डा. अमिता अग्रवाल, डा. यूएस खरोला, डा. उषा अरूण,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कोरोना मीटरःउत्तराखंड में 24 घंटे में 764 नए मामले

देहरादून। उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे में कोरोना