एम्स ऋषिकेश में कोरोना वायरस कोविड-19 की जांच शुरू

एम्स ऋषिकेश में कोरोना वायरस कोविड-19 की जांच शुरू

- in स्वास्थ्य
0

ऋषिकेश। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, एम्स में कोविड-19 की जांच शुरू हो गई है। संस्थान के चिकित्सकों के परामर्श पर उक्त जांच निःशुल्क होगी।

उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार ने एम्स ऋषिकेश और आईआईपी हेतु अनुमोदन किया था। राज्य सरकार के अनुमोदन के बाद इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने इस हेतु अनुमति जारी की थी। सोमवार को संस्थान के माइक्रो बायोलॉजी विभाग की देखरेख में कोरोनो वायरस कोविड 19 के नमूनों की जांच के लिए वायरोलॉजी लैब में परीक्षण का कार्य विधिवत शुरू हो गया है।

जिसमें कोरोनो के अलावा अन्य तरह के वायरस की टेस्टिंग भी की जा रही है। निदेशक प्रो. रवि कांत ने इसकी पुष्टि की। बताया कि आई इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) के सहमति के बाद एम्स संस्थान में वायरोलॉजी लैब में मरीजों के नमूनों का परीक्षण विधिवत शुरू कर दिया गया है।

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च की ओर से प्रथम चरण में 150 और द्वितीय चरण में 300 पीसीआर किट (पॉलीमारेज चैन रिएक्शन) उपलब्ध कराई गई हैं। उन्होंने बताया कि नवसृजित प्रयोगशाला में क्वालिटी टेस्टिंग का रिजल्ट बीते 26 मार्च को आईसीएमआर को भेजा गया,जिस पर 27 को आईसीएमआर द्वारा सहमति दे दी गई थी।

उन्होंने बताया कि अब एम्स अस्पताल में आने वाले कोविड 19 से ग्रसित मरीजों की सैंपल की जांच अन्यत्र नहीं भेजनी पड़ेगी और रिपोर्ट के लिए लंबा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। उधर निदेशक के स्टाफ ऑफिसर डा. मधुर उनियाल ने बताया कि एम्स संस्थान के ट्रॉमा सेंटर में कोविड-19 से आशंकित व ग्रसित मरीजों के लिए 100 बेड का आइसोलेशन वार्ड शुरू कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि पेसेंट की संख्या के मद्देनजर जल्द ही वार्ड में बेडों की संख्या में और अधिक इजाफा किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

परियोजनाओं के क्रियान्वयन में तेजी लाने के निर्देश

देहरादून। वाह्य सहायतित परियोजनाओं के अंतर्गत संचालित परियोजनाओं