बीएमएलटी के अंतिम वर्ष के छात्रों को एम्स में लिए गए प्रशिक्षण का प्रमाण पत्र दिए गए

बीएमएलटी के अंतिम वर्ष के छात्रों को एम्स में लिए गए प्रशिक्षण का प्रमाण पत्र दिए गए
Spread the love

ऋषिकेश। श्रीदेव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय के ऋषिकेश परिसर स्थित मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी विभाग के अंतिम वर्ष के छात्र छात्राओं को प्रशिक्षण प्रमाण पत्र वितरित किए गए ।

उल्लेखनीय है कि परिसर के मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी विभाग व एम्स, ऋषिकेश के बीच 2018 में एक समझौता करार हुआ था, जिसके तहत मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी के अंतिम वर्ष के छात्र छात्राओं को छह माह का नैदानिक प्रशिक्षण एम्स ऋषिकेश की प्रतिष्ठित प्रयोगशालाओं में दिया जाता है।

उक्त प्रशिक्षण पूरा करने के बाद छात्र/छात्राओं को शनिवार को प्रमाण पत्र दिए गए। उक्त कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के कुलसचिव प्रो. एम.एस. पंवार, परीक्षा नियंत्रक, प्रो. महावीर सिंह रावत, कॉलेज के प्रिंसिपल प्रो. पंकज पंत, मेडिकल टेक्नोलॉजी के समन्वयक प्रो. गुलशन कुमार ढींगरा, व कला संकाय के डीन प्रोफेसर डीसी गोस्वामी के द्वारा छात्र-छात्राओं को प्रमाण पत्र वितरित किए गए।

प्रशिक्षण प्रमाण पत्र प्राप्त कर छात्र छात्राओं ने अपने प्रशिक्षण के अनुभव साझा किए और बताया कि एम्स जैसे संस्थान से प्रशिक्षण प्राप्त करना ही गौरत की बात है, उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण के दौरान एम्स की फैकेल्टी एवं कर्मचारियों ने उनका पूरा सहयोग किया ।

मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी विभाग के समन्वयक प्रो. गुलशन कुमार ढींगरा ने कहा कि एम्स जैसे बहुस्तरीय संस्थान से प्रशिक्षण प्राप्त करने का सौभाग्य हमारे छात्रों को मिल रहा है जिससे उनकी भविष्य में यह लाभदायक सिद्ध होगा।
कुल सचिव प्रो. पंवार, परीक्षा नियंत्रक प्रो. रावत व प्राचार्य प्रो. पंकज पंत ने छात्रों को उनके भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। इस दौरान प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले छात्रों में आयुष, मयंक दीप, विपिन कुमार, अर्चना, शुभांगी, नीतू, मालती, काजल, ऋषिता, संध्या, मोनिका आदि छात्र छात्राएं व डस्ज् विभाग के सभी सदस्य उपस्थित थे।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published.