अंकिता मर्डर केसः क्या वीआईपी की ओर बढ़ने लगी है एसआईटी की जांच

अंकिता मर्डर केसः क्या वीआईपी की ओर बढ़ने लगी है एसआईटी की जांच
Spread the love

ऋषिकेश। उत्तराखंड की बेटी अंकिता भंडारी मर्डर केस में क्या एसआईटी की जांच वीआईपी की ओर बढ़ने लगी है ? जी हां, ऐस लग रहा है। वजह इस केस की सही जांच इस बात पर ही निर्भर करेगी।

पौड़ी जिले के यमकेश्वर ब्लॉक के गंगा भोगपुर स्थित एक रिसोर्ट में कार्यरत अंकिता भंडारी की हत्या से पूरा राज्य गुस्से में है। शासन प्रशासन के तमाम उपक्रमों के बावजूद लोगों का गुस्सा कम नहीं हो रहा है।

हत्या के मामले में वीआईपी की बात लोगों का गुस्सा बढ़ा रही है। पॉलिटिकल क्लास में भी इसको लेकर खासी चर्चा है। रिसोर्ट पर रात के अंधेरे में चला बुलडोजर से तमाम संदेह पैदा हो चुके हैं। विपक्ष ने इसे मुददा बना दिया है। विपक्ष का आरोप है कि इससे साक्ष्यों को नष्ट किया गया।

आम लोगों भी इसको लेकर सवाल उठा रहे हैं। आरोप लग रहे हैं कि ऐसा कथित वीआईपी को बचाने के लिए किया गया। ऐसे में एसआईटी के लिए अंधेरे में रिसोर्ट पर चले बुलडोजर और कथित वीआईपी के मामले पर फोकस करना जरूरी हो गया है।

बताया जा रहा है कि आरोपियों की रिमांड में एसआईटी का फोकस इसी बात पर रहा है। कहा जा सकता है कि एसआईटी वीआईपी की ओर बढ़ने लगी है। हालांकि जांच में शामिल अधिकारी इस पर अभी कुछ बताने से कतरा रहे हैं।

Tirth Chetna

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *