दिल्ली और देहरादून में चर्चा में सिर्फ अनिल बलूनी

दिल्ली और देहरादून में चर्चा में सिर्फ अनिल बलूनी

- in राजनीति
0

ऋषिकेश। उत्तराखंड राज्य के संदर्भ में भाजपा के भीतर दिल्ली से देहरादून तक राज्य सभा के सांसद अनिल बलूनी ही चर्चा में हैं। पांच लोक सभा सांसद बड़े फलक पर दूर-दूर तक चर्चा में नहीं हैं।

तमाम चर्चाओं के बावजूद अनिल बलूनी भले ही उत्तराखंड के मुख्यमंत्री नहीं बन पाए हों। मगर, पार्टी के भीतर दिल्ली और देहरादून में भाजपाइयों के बीच उन्हीं के नाम की चर्चा सबसे अधिक रहती हैं। इसमें राज्य की बेहतरी के लिए उनके स्तर से दिल्ली से कराए जा रहे काम प्रमुख रूप से शामिल हैं।

किसी एक क्षेत्र के बजाए पूरे राज्य के विकास के लिए प्रयास करने से उनकी छवि उत्तराखंड के नेता के रूप में बन रही हैं। बेहतर मीडिया प्रबंधन से भी इसमें इजाफा हो रहा है। दो निर्दलीय विधायक और एक कांग्रेस विधायक को भाजपा में शामिल कराने में उनका अहम रोल रहा।

एक पार्टी विधायक को कांग्रेस के खेमे से वापस लाने का श्रेय भी उन्हीं के खाते में जा रहा है। कुल मिलाकर सांसद बलूनी दिल्ली से उत्तराखंड राज्य में पार्टी की बेहतरी के लिए अच्छा प्रबंधन कर रहे हैं।

उत्तराखंड भाजपा के छोटे-बड़े नाराज नेताओं और अन्य दलों से भाजपा में शामिल होने वाले नेताओं के लिए दिल्ली में अनिल बलूनी चैनल का काम कर रहे हैं। यही वजह है कि उत्तराखंड में प्रचंड बहुमत की सरकार के कर्ताधर्ताओं से अधिक चर्चा अनिल बलूनी के हिस्से आ रही है।

कुल मिलाकर दिल्ली में उत्तराखंड के संदर्भ में अनिल बलूनी खासी व्यापकता हासिल कर चुके हैं। राज्य के पांच लोकसभा सांसद एक तरह से बड़े फलक पूर दूर-दूर तक नहीं दिख रहे हैं। इसे भाजपा की नई राजनीति बताया जा रहा है।

इस राजनीति में उम्र की गणना होने लगी है। ढीले पड़ते तेवर, और घटते मूवमेंट को भी पार्टी काउंट कर रही है। इस बात को पार्टी के उम्रदराज नेता भी समझने लगे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मेयर की पहल से निराश्रित गोवंश को मिलेगा ठौर

ऋषिकेश। मेयर श्रीमती अनिता ममगाईं की पहल पर