टिहरी जिले के लिए 5237 लाख की जिला योजना अनुमोदित

टिहरी जिले के लिए 5237 लाख की जिला योजना अनुमोदित

- in टिहरी
0

नई टिहरी। विकास कार्यों में राजनीति नहीं होनी चाहिए। जहां जिस काम की जरूरत है उसे पूरा करने की जिम्मेदार सबकी है।

ये कहना है प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री डा. धन सिंह रावत का। जनपद की वर्ष 2018-19 की जिला योजना समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने कहा कि विकास में कोई राजनीति नही होनी चाहिए और जहॉ पर जिस कार्य/योजना की आवश्यकता होगी उसे हर सम्भव पूरा करने का प्रयास किया जायेगा।

बैठक में वर्ष 2018-19 के लिए 5237 लाख रु0 की जिला योजना को अनुमोदित किया गया। बैठक में प्रभारी मंत्री ने कहा कि जिन योजनाओं पर 50 प्रतिशत से अधिक कार्य हो चुका है या गतिमान है उन्हे इस वर्ष की जिला योजना में प्राथमिकता दी गई है।

तथा बडी योजनाओं को जिनके निर्माण में अधिक समय व अधिक धनराशि व्यय होने की सम्भावना होती है उन्हे राज्य सेक्टर के माध्यम से स्वीकृत किया जायेगा। मंत्री ने निर्देश दिये कि अधिकारी वर्ग योजनाओं के निर्माण में पूरी पारदर्शिता बरते तथा गुणवत्ता और समयबद्धता का पूरा ध्यान रखा जाए ताकि योजनाओं का लाभ आमजनता को मिल सके।

उन्होंने स्पष्ट किया कि वो ब्लॉक स्तर पर भी विकास कार्यों की समीक्षा करेंगे।
माह में पांच दिन जिले में रहेंगे। इस अवसर पर टिहरी सांसद माहरानी राज्यलक्ष्मी शाह, जिला पंचायत अध्यक्ष सोना सजवांण, विद्यायक टिहरी धन सिंह नेगी, प्रतापनगर विजय सिंह पवांर, देवप्रयाग विनोद कण्डारी, धनोल्टी प्रीतम पंवार, घनसाली शक्तिलाल शाह, ब्लॉक प्रमुख चम्बा आनन्दी नेगी, थौलधार बबीता शाह, कीर्तिनगर अनिता निजबाला, जौनपुर कुंवर सिंह पंवार, समिति के सदस्य अमिन्दर बिष्ठ, मुरारीलाल खण्डवाल, आशुतोष कण्डारी, अखिलेश उनियाल प्रभारी जिलाधिकारी/मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगांई के अलावा समिति के अन्य सदस्य, जनप्रतिनिधि व अधिकारीगण उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पुरानी पेंशन को मंत्रिमंडलीय उपसमिति गठित

गैरसैंण। शिक्षक/कर्मचारियों की पुरानी पेंशन बहाली की मांग